ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

टूलकिट पर तकरार, कांग्रेस ने हर ब्लाक में कराई एफआइआर, भाजपा बोली-डरते नहीं

रायपुर।  टूलकिट के मामले में छत्तीसगढ़ में सियासत गरम है। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देश पर कांग्रेस पदाधिकारियों ने सभी ब्लाक में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, प्रवक्ता संबित पात्रा और राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया है।

राजधानी में एनएसयूआइ के पदाधिकारियों ने पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने के लिए सिविल लाइन थाने में आवेदन दिया। वहीं, भाजपा नेताओं ने चुनौती देते हुए कहा कि टूलकिट को उन लोगों ने भी साझा किया था। कांग्रेस सरकार में दम है तो उन्हें गिरफ्तार करके दिखाए।

कांग्रेस नेताओं ने शिकायत में लिखा कि छत्तीसगढ़ में भी भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डा. रमन सिंह ने इस फर्जी समाचार को इंटरनेट मीडिया में प्रसारित किया है। इसके जरिए इन लोगों ने कांग्रेस की छवि को खराब करने की कोशिश की है। ऐसे में इनकी तत्काल गिरफ्तारी की जाए। कांग्रेस नेताओं ने रायपुर के पुरानी बस्ती थाने में भी ऐसी ही शिकायत दी है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने कहा कि फर्जी टूलकिट मामले में भाजपा और उसके नेताओं का षड्यंत्रकारी चेहरा एक बार फिर जनता के सामने बेनकाब हुआ है। ऐसे लोगों की गिरफ्तारी भी होनी चाहिए, ताकि लोकतंत्र को बदनाम करने के लिए साजिश रचने वाली शक्तियों का हौंसला टूट सके। गिरफ्तारी की चुनौती देकर खुद को कानून से बड़ा बताने की कोशिश करने वाले भाजपा नेता जान लें षड्यंत्रकारी और अपराधी कितना भी रसूखदार हो, कानून की गिरफ्त से बच नहीं सकते।

मरकाम ने कहा कि जब-जब भाजपा और मोदी सरकार किसी मसले पर विफल होते हैं या उनके खिलाफ विरोध के स्वर उठते हैं, तब उससे जनता का ध्यान हटाने भाजपा इस प्रकार के फर्जी हथकंडे अपनाती है। भाजपा फर्जी टूलकिट के माध्यम से देश की दुहाई देकर मोदी के माथे पर लगी महामारी से लड़ने में विफलता की कालिख मिटाना चाहती है।

कोरोना महामारी में अपनी अकर्मण्यता और लापरवाही के कारण जनता के विरोध को झेल रही मोदी सरकार के खिलाफ किसी भी प्रकार के दुष्प्रचार की कोई जरूरत ही नहीं है। देश के इतिहास में शायद ही कोई पूर्ण बहुमत वाली सरकार जनता के इतने जनाक्रोश और नफरत को झेली हो।

देशभर में महामारी से हो रही मौतों, आक्सीजन और दवाइयों के लिए भटकते लोग, नदियों में तैरती लाशें, ऐसी टूल किट है, जो मोदी सरकार को रसातल में पहुंचा चुकी है। देश के लोग वैक्सीन के लिए भटक रहे एक राष्ट्र एक कर का नारा देने वाली मोदी सरकार वैक्सीन की एक कीमत नहीं रखवा पाई। टीके का एक राष्ट्र चार कीमत निर्धारित हुआ।

फर्जी कागजों पर राजनीति करना रमन की फितरत: शैलेश

कांग्रेस ने कहा कि चुनाव के समय किसानों से किए वादे की नकली चिट्ठी बनाकर भ्रम पैदा करने वाले और अपने ही मंत्रियों की नकली सीडी बनवाने वाले रमन सिंह बिलो-द-बेल्ट राजनीति की बात कर रहे हैं। कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा फर्जी आंकड़ों और दस्तावेजों के आधार पर पूरे देश में दंगा करवाने से लेकर भ्रम फैलाने का काम करती रही है, वह किस मुंह से कांग्रेस पर आरोप लगा रही है।

भाजपा छत्तीसगढ़ और बंगाल में बिलो द बेल्ट राजनीति का सहारा ले चुकी है। रमन का 15 वर्ष का मुख्यमंत्री काल बिलो द बेल्ट वार करने के अनेक उदाहरणों से भरा पड़ा है। उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री रमन सिंह के कुशासन के खिलाफ लड़ाई की अगुवाई करने वाले प्रदेश कांग्रेस अध्यक्षों शहीद नंद कुमार पटेल, डा. चरणदास महंत और भूपेश बघेल के खिलाफ जो कुछ किया गया, वह बिलो द बेल्ट की श्रेणी में आता है या नहीं?

यह है कांग्रेस की शिकायत में

भाजपा के राष्ट्रीय पदाधिकारियों द्वारा इंटरनेट मीडिया में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के अनुसंधान विभाग के जाली लेटर हेड में फर्जी मनगढ़ंत फेक न्यू साझा कर देश में सांप्रदायिकता हिंसा फैलाने का प्रयास किया है। पदाधिकारियों के विरुद्ध आइपीसी की धारा/आइटी एक्ट की धारा (आइपीसी की प्रासंगिक धारा- 124ए, 153ए, 295ए, 298, 499, 503, 504, 505) के तहत अपराध दर्ज किया जाए। छत्तीसगढ़ के नेताओं डा. रमन सिंह ने भी फर्जी समाचार को इंटरनेट मीडिया में प्रचारित कर कांग्रेस की छवि खराब करने की कुचेष्टा की है, इनकी तत्काल गिरफ्तारी की जाए।