ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

टीकाकरण केंद्र पर महिला नेत्री की दादागिरी, बुजुर्ग लाइन में होते रहे परेशान

इंदौर। कोरोना के टीकाकरण केंद्र पर भी राजनेताओं की सिफारिश और मनमानी लोगों को परेशान कर रही है। गुरुवार दोपहर फूटी कोठी स्थित नगर निगम के जोन पर चल रहे टीकाकरण में पूर्व पार्षद व भाजपा नेता कंचन गिदवानी के कारण लाइन में लगे बुजुर्ग घंटों परेशान होते रहे। दोपहर में टीकाकरण केंद्र पहुंची पूर्व पार्षद अपने साथ 15 से ज्यादा लोगों को लेकर पहुंची। अपना प्रभाव दिखाकर साथ आए लोगों को टीका लगाने का निर्देश केंद्र पर मौजूद स्वास्थ्य कर्मियों को दे दिया। मौके पर मौजूद भाजपा के मंडल अध्यक्ष से भी भाजपा नेत्री की केंद्र के भीतर ही जमकर बहस हुई। विवाद के चलते केंद्र पर काफी देर तक टीकाकरण भी रुका रहा।

दोपहर करीब ढाई बजे पूर्व पार्षद टीकाकरण केंद्र पहुंची थी। गिदवानी एक वृद्धाश्रम संचालित करती है। गिदवानी अपने वृद्धाश्रम के बुजुर्गों को लेकर पहुंची थी। गिदवानी सीधे वैक्सीनेशन रूम में पहुंची और साथ आए लोगों को पहले टीका लगाने के लिए कह दिया। वहां टोकन लेकर अपनी बारी का इंतजार कर रहे दूसरे बुजुर्गों ने इस पर टोका तो स्वास्थ्यकर्मियों ने गिदवानी को टोकन लेने के लिए कहा।
इस पर गिदवानी ने पहले सांसद शंकर लालवानी का नाम लिया। बाद में जोनल अधिकारी का आदेश होने की बात कही। टीकाकरण केंद्र में भाजपा के मंडल अध्यक्ष शानू शर्मा मौजूद थे। उन्होंने आकर जोनल अधिकारी को फोन लगाया तो अधिकारी ने किसी भी तरह की विशेष अनुमति देने से इनकार कर दिया। इस पर गिदवानी शर्मा पर भड़क गई कि मेरे साथ आए लोग बुजुर्ग है। इस पर शर्मा ने केंद्र के बाहर लाइन में बैठे 40 से ज्यादा लोगों की ओर इशारा कर कहा कि ये भी सब बुजुर्ग हैं और सुबह से टोकन लेकर बैठे हैं। आप भी पहले टोकन लो। दोनों भाजपा नेताओं में जमकर बहस हुई।
शर्मा ने कहा कि कोई पूर्व पार्षद है इसका मतलब ये नहीं हो सकता की वो टीकाकरण की व्यवस्था को अपने हिसाब से कर दे। हालांकि पार्षद नहीं मानी। मंडल अध्यक्ष को बाहर कर दिया। स्वास्थ्यकर्मियों को डपटकर अपने लोगों को पहले टीका लगवाया।
कलेक्टर का आदेश था
कलेक्टर का आदेश था कि वृद्धाश्रम के बुजुुर्गों को पहले टीका लगेगा। आश्रम का मैनेजर बात करके गया था। उसे जोनल अधिकारी ने थोड़ी देर से आने के लिए कहा था। वेबवजह कुछ लोगों ने विवाद किया। उनके कारण ही टीकाकरण रुका।
– कंचन गिदवानी, पूर्व पार्षद