ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

रावन के अल्ट्राटेक सीमेंट में 29 अक्टूबर से तालाबंदी के साथ धरना प्रदर्शन


संयंत्र द्वारा ग्रामीणों को ठग कर जमीन खरीदे जाने व अब तक मुआवजा के साथ परिवार के एक सदस्य को नौकरी नहीं देने का लग रहा आरोप

रिसदा/ बलौदाबाजार। सिमगा ब्लॉक के ग्राम रावन मे किसानों की जमीन पूर्व में ग्रासिम तथा वर्तमान में अल्ट्राटेक सीमेंट संयत्र द्वारा जबरदस्ती अधिग्रहण कर विगत 20 वर्षों से माईनस और डम्प कार्यालय बनाकर रखा है। माइंस एरिया मैं अधिग्रहित किसानों को अब तक एक रुपए भी मुवाजा राशि नहीं दिया गया है। साथ ही प्रभावित कृषको के परिवार के सदस्य को रोजगार मुहैया नहीं कराया गया है। ग्राम के संयंत्र से प्रभावित किसानों को विगत 15 साल से अपने हक की लडाई लड़ रहे हैं। जिस में विगत दिनों प्रकाश बहपकडिया जिला अध्यक्ष असंगठित कामगार मजदूर कांग्रेस के नेतृत्व मे असंगठित कामगार मजदूर कांग्रेस जिला बलौदाबाजार भाटापारा की टीम द्वारा ग्राम वासियों से मुलाकात कर मीटिंग किये और सभी किसानों को आशशवत किये की आगमी 29 अक्टूबर को अल्ट्राटेक सीमेंट संयत्र के विरूद्ध संयंत्र के मुख्य द्वार पर तालाबंदी के साथ आंदोलन कर किसानों को उनका हक दिलायेगे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का एक ही कहना है हमारी सरकार मजदूर किसानों की सरकार है और हम संकल्पित हैं कि मजदूर किसानों को उनका हक दिला के रहेगे। ग्राम में हुए बैठक में विनोद यदु शहर अध्यक्ष असंगठित कामगार मजदूर कांग्रेस भाटापारा, गोविंदा देवदास युवा कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष भाटापारा, टेकसिह ध्रुव अध्यक्ष मौली महासभा ध्रुव समाज भाटापारा, रावन निवासी नारायण वर्मा, डागेशवरी वर्मा, ठाकुर राम प्यारे वर्मा, मुन्ना खान एवं संयंत्र से प्रभावित किसानों सहित ग्रामीण जन उपस्थित थे।