ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

सराफा में एसोसिएशन का पहरा, सिर्फ थोक कारोबारियों को मिली एंट्री

इंदौर। ढाई महीने बाद सराफा बाजार में दुकानों के शटर खुले हैं। हालांकि सिर्फ चुनिंदा दुकानों और दुकानदारों को ही शटर उठाने की अनुमति मिली। इस दौरान ग्राहकों को आने और बुलाने की अनुमति नहीं थी। बाजार से व्यापार भी नहीं हुआ। लंबे समय बाद व्यापारियों को अपने जरूरी कामकाज निपटाने के लिए बाजार में आने की अनुमति दी गई।

प्रशासन ने चार घंटे तक थोक व्यापारियों को सराफा में कामकाज की अनुमति दी थी। अनुमति के बाद चांदी-सोना-जवाहरात व्यापारी एसोसिएशन ने सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक व्यापारियों को बाजार में आकर अटके काम निपटाने के निर्देश दिए। सराफा व्यापारी एसोसिएशन के उपाध्यक्ष बसंत सोनी के अनुसार बाजार में रिटेल दुकानदारों को आने की अनुमति नहीं थी। सिर्फ 50 से 60 होलसेल और सेमी होलसेलर्स हैं। उन्हें ही बाजार में आने की अनुमति थी

बाजार में सिर्फ सराफा थाने के पास से प्रवेश था। बाकी रास्ते बंद कर दिए गए थे। एंट्री पर एसोसिएशन के सदस्य तैनात थे। होलसेल व्यापारियों की पहचान के बाद उनकी रजिस्टर में एंट्री कर उन्हें जाने दिया गया। सोनी के अनुसार ढाई महीने पहले अचानक बाजार बंद कर दिया गया था। तब प्रशासन ने सिर्फ दो दिन के साप्ताहिक लाकडाउन का कहा था। ऐसे में व्यापारियों को समय नहीं मिला था। जल्दबाजी में दुकानें बंद कर गए थे। कइयों को स्टाक को सुरक्षित रखना था। बारिश में चांदी काली पड़ने लगती है। चांदी को सुरक्षित रखना था। साथ ही जीएसटी जमा करना। बही खाते लेना जैसे कुछ जरूरी काम थे। कुछ व्यापारियों को स्टाक दुकानें से निकालना था। ऐसे थोक व्यापारी आज बाजार आए थे।

सभी बाजार खुलें

अहिल्या चेंबर के उपाध्यक्ष इसहाक चौधरी ने व्यापारियों के साथ सांसद शंकर लालवानी से मुलाकात की। व्यापारियों ने मांग रखी कि अब सभी बाजारों और सभी दुकानों को खोलने की अनुमति दी जाना चाहिए। व्यापारी अब हताश हो चुके हैं। लोगों को भी सिर्फ किराने की ही नहीं कपड़ों से लेकर अन्य वस्तुओं की भी जरूरत हैं। ऐसे में अब भेदभाव नहीं करना चाहिए। व्यापार हमेशा के लिए बंद नहीं रखा जा सकता।