ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

दहेज की प्रताड़ना से तंग होकर की थी महिला ने आत्महत्या

जबलपुर। बेलखेड़ा थाना क्षेत्र में एक महिला की जलने से मौत के मामले में पुलिस ने जांच के बाद उसके पति पर मामला दर्ज कर लिया है। मेडिकल चौकी गढ़ा में 22 मई को मेडिकल कालेज से सूचना मिली थी कि बेलखेड़ा सुंदरादेही निवासी कंचन बेन 24 को खाना बनाते समय जलने के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जिसकी इलाज के दौरान दोपहर में मौत हो गई। सूचना पर पुलिस ने शव को पीएम के लिए भिजवाते हुए घटनास्थल बेलखेड़ा का होने के कारण जांच के लिए डायरी बेलखेड़ा थाने स्थानांतिर कर दी थी।

जांच के दौरान मृतका कंचन बेन के मायके पक्ष के लोगों के कथन लिए गए। जिन्होंने बताया कि जून 2017 में कंचन ने प्रदीप बेन से प्रेम विवाह किया था। इसके बाद दोनों साथ में रह रहे थे, शादी के बाद प्रदीप ने कंचन को मायके जाने पर रोक लगा दी थी, वहीं जब भी कंचन मायके जाने को कहती, तो उससे प्रदीप उससे कहता कि तुम्हारे मायके से कुछ नहीं मिला है वहां जाने की जरूरत नहीं है।

कंचन छिपकर अपने मायके के लोगों से मिलती थी, इस दौरान बातचीत में वह बताती थी कि प्रदीप मायके नहीं आने देता और कहता है कि यदि मायके जाना है, तो मायके वालो से दहेज में बाइक लेकर आओ। यदि बाइक नहीं मिली, तो तुम्हे परेशान होना पड़ेगा। कंचन के पिता की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के बाद बाइक नहीं दे सके। जिसके बाद कंचन को प्रदीप प्रताड़ित करने लगा। यह बात पता चलने पर कंचन के स्वजन ने प्रदीप को समझाया, वहीं प्रदीप ने भी आश्वासन दिया था कि वह कंचन को परेशान नहीं करेगा।

इसके बाद कंचन के पिता अपने 5 हजार, 2 हजार प्रदीप को देते थे। लेकिन प्रदीप फिर भी नहीं समझा और उसने नशा करके कंचन के साथ बेरहमी से मारपीट की। 21 मई को कंचन की जेठानी ने फोन करके बताया कि कंचन जल गई है और उसे मेडिकल अस्पताल में भर्ती किया गया है। जब वह सभी अस्पताल कंचन को देखने पहुंचे, तो उसका पति प्रदीप मेडिकल अस्पताल से भाग गया। कंचन कुछ बोल नहीं पा रही थी, जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। बयानों के आधार पर आरोपित प्रदीप पर मामला दर्ज कर उसकी तलाश शुरू कर दी है।