Jain
ब्रेकिंग
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh p... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

कोविड-19 के खतरे को देखते हुए मंगलवार को दुकान खोलना कितना उचित


भाटापारा। भाटापारा शहर के व्यापारी गण किस मनसा से अपने कार्य को अंजाम दे रहे हैं, यह समझ से परे हैं। हाल ही में प्रशासन द्वारा दुकान खोलने के सीमित समय को बढ़ाने के बावजूद भी मंगलवार को दुकान खोलने का निर्णय लेना किस हद तक शहर को समस्या में डाल सकता है, इसका अंदाजा तो उन्हें भी लग चुका है, उसके उपरांत भी जान जोखिम में खुद की और पूरे नगर की डाल कर काम करना कितना उचित है। विगत सप्ताह भर का भाटापारा में कोरोना पॉजिटिव औसतन देखा जाए तो 15 मरीज प्रतिदिन के हिसाब से निकलेगा, उसके बाद जी कुछ लोगों के स्वार्थ के चलते पूरे शहर को जान जोखिम में डालना समझदारी वाली बात तो कतई नहीं लगती। दीपावली, धनतेरस त्यौहार के एक-दो दिन पहले अगर मंगलवार आता है, तो दुकान खोलना उचित लगता है, पर त्यौहार के 20 25 दिन पहले से ही अगर मंगलवार को दुकान खोली जाए, तो समस्या और बढ़ सकती है। व्यापारी बंधुओं को इस विषय पर ध्यान देकर उचित निर्णय लेना चाहिए। इस विषय पर भाटापारा प्रशासनिक अधिकारियों का कहना है कि हमने किसी प्रकार का कोई निर्णय नहीं लिया है।