ब्रेकिंग
विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद छत्तीसगढ़ भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष होंगे किरण सिंह देव

फार्म हाउस में बबूल के पेड़ पर लटकी मिली लाश, बंधे थे दोनों पैर

भिलाई। चंदखुरी के एक फार्म हाउस में काम करने वाले व्यक्ति की लाश फार्म हाउस में ही बबूल के पेड़ से लटकी मिली। मृतक के दोनों पैर एक रस्सी से बंधे हुए थे। वो जिस कमरे में रहता था।

उसके सामने घसीटने के निशान मिले हैं। पुलिस इसे तो आत्महत्या ही मान रही है। लेकिन,पूरी घटना को देखकर ये आत्महत्या जैसा नहीं लग रहा है। पुलगांव पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज कर इसकी जांच शुरू की है।

मृतक की पहचान ओडिशा निवासी जितेंद्र यादव (40) के रूप में की गई है।

वो वर्तमान में आबादी पारा अंजोरा में अपने ससुराल रहकर चंदखुरी के फार्म हाउस में काम करता था। उक्त फार्म हाउस मुकेश चंद्राकर की बताई जा रही है। सोमवार की सुबह पुलिस को जानकारी मिली कि वहां काम करने वाले व्यक्ति की लाश बबूल के पेड़ से लटकी हुई है।

इस पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की। जानकारी के मुताबिक मृतक को साल भर पहले लकवा मार गया था। इसके बाद से उसकी तबीयत खराब रहती थी। जिस पेड़ पर उसकी लाश मिली है। वहां नीचे कोई टेबल या अन्य कोई सामान नहीं मिला है। जिससे कि ये पता चल सके कि उसने किस चीज पर चढ़कर फांसी लगाई है

लकवाग्रस्त होने के कारण उसके पेड़ पर चढ़कर पैर में रस्सी बांधकर फांसी पर झूलने की बात भी संभव नहीं लग रही है। घर के दरवाजे के पास से कुछ दूरी तक किसी चीज को घसीटने के निशान मिले हैं। हालांकि वो निशान किस चीज का है। ये भी स्पष्ट नहीं हो सका है।

इस घटना में पूरे लक्षण फांसी के ही मिले हैं। घर के पास जो निशान मिले हैं, वो किसी लकड़ी को दबाकर खींचने के जैसा है। शव को घसीटने वाले निशान नहीं है। प्रारंभिक जांच में ये आत्महत्या जैसे ही लग रहा है। बाकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

– विवेक शुक्ला, सीएसपी दुर्ग