Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

ब्राजील में कोरोना की तबाही, पांच लाख के पार पहुंचा मौतों का आंकड़ा; सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतरे हजारों लोग

साओ पोलो। कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में अमेरिका और भारत के बाद ब्राजील का नाम है। यहां कोरोना वायरस ने जो तबाही मचाई है उसमें अब तक पांच लाख से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है। शनिवार को ब्राजील में मरने वालों का आंकड़ा पांच लाख को पार कर गया है। इस स्थिति को देखकर विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि आने वाले समय में स्थिति और ज्यादा बुरी हो सकती है। विशेषज्ञों का मानना है कि वैक्सीनेशन में देरी और मास्क व शारीरिक दूरी का ख्याल ना रखने कारण यहां स्थिति और भी ज्यादा खराब हो सकती है। लैटिन अमेरिका में ब्राजील ऐसा देश है जहां कोरोना से सबसे ज्यादा मौतें दर्ज की गई हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक, देश में अब तक इस कोरोना वायरस की चपेट में 17,883,750 लोग आ चुके हैं और 500,800 लोगों की मौत इस खतरनाक वायरस के कारण हो चुकी है। विशेषज्ञों का कहना है कि अगर वैक्सीनेशन में तेजी नहीं लाई गई और कोरोना उपायों का ख्याल नहीं रखा गया तो यह आंकड़ा और बढ़ सकता है और स्थिति और भी ज्यादा भयावह हो सकती है। ब्राजील में अब तक सिर्फ 11 फीसद लोगों का पूर्णरूप से टीकाकरण हुआ है।

ब्राजील के स्वास्थ्य नियामक एनविसा के प्रमुख गोनजालो वेकिना ने चिंता जताई है कि टीकाकरण का प्रभाव देखने से पहले देश में मौतों का आंकड़ा सात लाख से आठ लाख तक पहुंच सकता है। उन्होंने कोरोना स्थिति से निपटने के लिए अपनाए गए तरीकों के लिए राष्ट्रपति जायर बोलसोनारो की निंदा की है। मास्क, शारीरिक दूरी, लॉकडाउन और वैक्सीनेशन में ढिलाई बरतने को लेकर उन्होंने सरकार की निंदा की है।

राष्ट्रपति बोल्सोनारो के खिलाफ सड़कों पर उतरे हजारों प्रदर्शनकारी

राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो के खिलाफ हजारों प्रदर्शनकारी शनिवार को सड़कों पर उतरे और कोरोना संक्रमण से देश में बिगड़ती स्थिति के लिए बोल्सोनारो को जिम्मेदार ठहराते हुए प्रदर्शन किए। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति ने वैक्सीन खरीदने में लापरवाही दिखाई है जिस वजह से टीकाकरण में देरी हुई और इतने लोगों की जान गई। इस पर बोल्सोनारो के कार्यालय की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं आई है। ब्राजीलियाइ मीडिया के मुताबिक, देश की राजधानी ब्रासिलिया समेत 26 राज्यों में प्रदर्शन किए गए।