Jain
ब्रेकिंग
प्लॉट खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान, बढ़ेगी सकारात्मक ऊर्जा और होगा भरपूर लाभ कर्ज से मुक्ति के लिए आजमाएं वास्तु शास्त्र से जुड़े उपाय भगवान कृष्ण से सम्बंधित 13 खास मंदिर 14 घंटे रेस्क्यू चलने के बावजूद 17 लोगों को नहीं खोज सके; घाटों पर गोताखोर तैनात जहां सीएम मनाएंगे अमृत महोत्सव, वहां कलेक्टर-आईजी ट्रैक्टर से पहुंचे भाद्रपद माह में जन्माष्टमी और गणेश उत्सव जैसे कई बड़े त्योहार घर में इस जगह पर रखें फेंगशुई ड्रैगन, सकारात्मक ऊर्जा का होगा संचार और बरसेगा धन इन लॉकेट को पहनने के जानें फायदे और नुकसान, धारण करने के जानें नियम सुबह से खिली है तेज धूप; जुड़ने लगे हैं गंगा के घाट अंबाला कैंट के PWD रेस्ट हाउस में सुनेंगे शिकायतें

भारत के बैटिंग कोच ने बताया, क्या होगा WTC फाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ फाइटिंग टोटल

नई दिल्ली। भारत के बल्लेबाज न्यूजीलैंड के खिलाफ एजेस बाउल में विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल के दूसरे दिन नम पिच, बारिश की परिस्थितियों और एक घातक तेज गेंदबाजी इकाई से लड़ने में सफल रहे। साउथैंप्टन में भारत को मजबूत शुरुआत दिलाने के लिए ओपनर रोहित शर्मा और शुभमन गिल ने सावधानी से बल्लेबाजी की, लेकिन शुरुआती स्टैंड के बाद उन्होंने तीन विकेट जल्दी गंवा दिए। बाद में कप्तान विराट कोहली और उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने पारी को संभाला, लेकिन दूसरे दिन भी खेल पूरा नहीं हो सका। 64.4 ओवर में भारत ने 3 विकेट खोकर 146 रन बना लिए हैं। ऐसे में टीम इंडिया के बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने बताया कि कीवी टीम के खिलाफ फाइटिंग टोटल कितना अच्छा रहेगा।

बल्लेबाजी कोच विक्रम राठौर ने शनिवार को एक टोटल चुना जो उन्हें लगता है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल में भारत को न्यूजीलैंड के खिलाफ लड़ाई की स्थिति में डाल देगा। उनका कहना है कि 250 से अधिक का टोटल पहली पारी में मौजूदा परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए एक अच्छा फाइटिंग टोटल होगा। दिन का खेल समाप्त होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में विक्रम राठौर ने कहा, “हम ज्यादा से ज्यादा रन बनाना चाहेंगे, लेकिन इन हालात में 250 से ज्यादा का स्कोर वाजिब होगा।” बल्लेबाजी कोच राठौर ने भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा और शुभमन गिल की भी तारीफ की, जिन्होंने जल्दी विकेट नहीं खोए और कीवी टीम पांच तेज गेंदबाजों के कारण बैकफुट पर चली गई।

कोच राठौर ने कहा, “बल्लेबाजी रन बनाने के बारे में है। रोहित और गिल ने काफी मंशा दिखाई और जहां भी संभव हो स्कोर करना चाहते थे। जिस तरह से उन्होंने बल्लेबाजी की उसके लिए विराट और रहाणे को सलाम, लेकिन सलामी बल्लेबाजों को भी काफी श्रेय मिलना चाहिए।” ड्यूक टेस्ट बॉल को लेकर विक्रम राठौर ने कहा, “मुझे लगता है कि जब गेंद थोड़ी पुरानी हो गई तो वह ज्यादा स्विंग करने लगी। साथ ही दूसरे सत्र के दौरान न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाजों ने अच्छे एरिया में प्रहार किया।” वहीं, पुजारा को पिछले कुछ मैचों में चार बार हेल्मेट पर गेंद लगी है। इसको लेकर उन्होंने कहा है कि पुजारा कुछ तकनीकि समस्याओं का सामना कर रहे हैं।