Jain
ब्रेकिंग
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh p... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

न्‍यूड वीडियो कॉल कर ब्‍लैकमेल करने वाले तीन आरोपितों को भेजा जेल

भोपाल। प्रदेश में साठ से ज्यादा लोगों के न्‍यूड वीडियो को रिकॉर्ड कर ब्लैकमेल करने वाले वेव सीरीज ‘हैकिंग’ की तर्ज पर ब्लैकमेल कर रहे थे। आरोपितों ने दोस्तों से ट्रेनिंग लेने के बाद ठगी करना शुरू किया था। आरोपितों के ट्रेनर ने उनको आगाह किया था कि ज्यादा रकम मांगने पर पीड़ित पुलिस में शिकायत करने की कर सकता है। छोटी रकम मिलने पर पीडित कभी शिकायत नहीं करेगा। साथ ही एक बार पैसा मिलने के बाद दोबारा राशि वसूल करने के लिए फोन नहीं लगाते थे। पुलिस ने तीनों आरोपित वसीम, पुरुषोत्तम मीणा व यादराम को शनिवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। अब पुलिस को इमरान नाम के ट्रेनर की तलाश है।
58 हजार ली सबसे बड़ी रकम
साइबर पुलिस सूत्रों का कहना है कि अब तक आरोपितों के खातों से एक साल के दौरान करीब 60.70 लाख रुपयों के लेनदेन की जानकारी मिली है। इसमें एक व्यक्ति से सबसे ज्यादा 58 हजार लिए गए है। लोगों को ब्लैकमेल कर अधिकांश रकम दस से पच्चीस हजार रुपये के बीच ली गई है।
साइबर क्राइम ने आरोपी पुरुषोत्तम मीणा व यादराम को अलवर राजस्थान से गिरफ्तार किया है। पुरुषोत्तम एमए फर्स्ट ईयर का छात्र है, जबकि यादराम ठेकेदारी करता है। आरोपितों ने अपने दोस्त इमरान से काम सीखा था। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि आरोपित ठगी कर एक महीने में साढ़े पांच लाख रुपये तक कमा लेते थे।