Braz
ब्रेकिंग
ग्रीस में छुट्टियां मनाकर लौटे हार्दिक पांड्या फतेहाबाद में 2 शिकायतों के बाद सेंट्रल बैंक की जांच में खुलासा; हैड कैशियर पर FIR युवक की तलाश करने उतरे मछुआरे की मिली लाश 10 महीने बाद किसानों ने खोला मोर्चा, लखीमपुर बना ‘मिनी पंजाब’; केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग शहर में 10 घंटे रहेंगे शाह... सुरक्षा में तैनात रहेंगे 40 आईपीएस अफसर और 3000 जवान बिहार में मौसम विभाग का अलर्ट दवा के साथ न करें इन चीजों का सेवन सबरीमाला मंदिर का इतिहास भगवान श्रीकृष्ण की हर लीला भक्तों के मन को है लुभाती निजी क्षेत्र में देश का सबसे बड़ा 2600 बेड का है अस्पताल, 64 आपरेशन थियेटर, 81 गंभीर बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टर करेंगे इलाज

विकास के दावों पर पार्टियों की अपनी डफली-अपना राग, 15 वर्ष बनाम ढाई साल

रायपुर। छत्तीसगढ़ में दोनों प्रमुख राष्ट्रीय राजनीतिक दलों कांग्रेस और भाजपा के बीच 15 वर्ष बनाम ढाई साल की जंग तेज हो गई है। कांग्रेस का आरोप है कि राज्य में 15 वर्षों के शासनकाल में भाजपा ने कुछ नहीं किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कह रहे हैं कि 15 वर्षों तक छत्तीसगढ़ का विकास रुका रहा। सबसे गरीब राज्य बना रहा। अब हम पुनर्निर्माण कर नवा छत्तीसगढ़ गढ़ रहे हैं।

कांग्रेस सरकार प्रदेश के विकास में लगी है। वहीं भाजपा कह रही है कि ढाई साल में प्रदेश का विकास पूरी तरह ठप पड़ गया है। केवल भय और भ्रष्टाचार की राजनीति हो रही है। अब कांग्रेस सरकार के काम को लेकर मैदान में उतर रही है तो भाजपा जनता से मिले फीडबैक के आधार पर आंदोलन की रणनीति तैयार कर रही है।

सरकार के ढाई साल पूरे होने पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी जिलों के विकास कार्यों का फीडबैक लेना शुरू किया है। जनता से मिल रहे जवाब ने सरकार को गदगद किया है। आदिवासी अंचल में सरकार की योजनाओं का लाभ लेने वालों से सीएम ने खुद चर्चा की और योजनाओं के सही क्रियान्वयन को लेकर फीडबैक लिया। अब कांग्रेस इन योजनाओं को लेकर जनता के बीच जा रही है।

कांग्रेस ने प्रदेश पदाधिकारियों से लेकर जिलाध्यक्ष और मीडिया विंग को प्रशिक्षण दिया है। इसमें सरकार की सफलता के साथ-साथ भाजपा के दुष्प्रचार से निपटने की ट्रेनिंग दी गई। सरकार के ड्रीम प्रोजेक्ट नरवा-गरवा, घुरवा-बाड़ी को लेकर टास्क फोर्स का गठन किया गया है। यही नहीं, स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम स्कूल को सफल बनाने के लिए शिक्षकों की भर्ती से लेकर जरूरी संसाधन जुटाने का काम भी किया जा रहा है।

वादों की याद दिलाने सड़क पर भाजपा

भाजपा ने सरकार को वादा याद दिलाने के लिए पांच दिन का अभियान चलाया था। इसमें शराबबंदी से लेकर युवाओं को रोजगार का मुद्दा उठाया। अब रविवार को भाजपा के प्रदेश पदाधिकारियों, मोर्चा-प्रकोष्ठ के अध्यक्षों और कोर ग्रुप की बैठक है। इसमें आम आदमी से मिले फीडबैक के आधार पर आंदोलन की रणनीति तैयार की जाएगी। भाजपा के राष्ट्रीय सहसंगठन महामंत्री शिवप्रकाश शनिवार को रायपुर पहुंच चुके हैं। प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी और सहप्रभारी नितिन नबीन वर्चुअल माध्यम से बैठक में जुड़ेंगे।

वर्जन

कांग्रेस सरकार ने पिछले 15 साल से रुके विकास को गति दी है। भाजपा सरकार ने पूंजीपतियों के विकास के लिए काम किया, जबकि हमारी सरकार गरीब, आदिवासी और मध्यमवर्ग के विकास के लिए काम कर रही है। कांग्रेस ने जो वादा किया था, उसे पूरा करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। गरीबों को मुफ्त राशन मिल रहा है। कोरोना से बचाव का पूरी मुस्तैदी से सरकार ने उपाय किया है।

– मोहन मरकाम, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष, छत्तीसगढ़

सरकार में आम आदमी की जगह माफिया का विकास हो रहा है। हमारे कार्यकर्ता जब गांव-गांव पहुंचे तो शराब माफिया, रेत माफिया, कोयला माफिया और अनाज माफिया के बारे में लोगों ने बताया। कार्यकर्ताओं ने 30 हजार से ज्यादा वीडियो तैयार किए हैं। युवा रोजगार मांग रहे हैं। लोगों को सुरक्षा नहीं मिल रही है। सरकार ने जो वादा किया, उसे पूरा नहीं किया जा रहा है।

– विष्णुदेव साय, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष, छत्तीसगढ़

Braz