Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

सीएम शिवराज सिंह चौहान का निमंत्रण दिल खोलकर स्वीकारा

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने टीकाकरण महाअभियान को लेकर हर अवसर पर लोगों को प्रोत्साहित किया, समाज से बेझिझक सहयोग मांगा और महाअभियान की शुरुआत में न्योते के तौर पर पीले चावल दिए। यह न्योता प्रदेश की जनता ने दिल खोलकर स्वीकार किया। मध्य प्रदेश टीकाकरण का तय लक्ष्य बहुत पीछे छोड़कर देश को संदेश देने वाली भूमिका में आ गया है। मुख्यमंत्री ने दतिया जिले के ग्राम परासरी में महा अभियान का शुभारंभ किया। वे सीधे ग्रामीणों के घर पहुंचे और पीले चावल देकर टीकाकरण का न्योता दिया। रामभूरे प्रजापति, धनीराम प्रजापति और रामसेवक वंशकार को दिए पीले चावल प्रतीकात्मक तौर पर पूरे प्रदेश के लिए थे। उन्होंने कहा कि टीकाकरण ही सुरक्षा कवच है। इसे खुद भी लगवाएं और दूसरों को भी प्रेरित करें।

उन्होंने मंच पर पांच लोगों को प्रतीक स्वरूप कोरोना वैक्सीन का मंगल टीका लगवाया। इस मौके पर कोरोना कर्फ्यू का पालन कराने में सहयोग करने वाले बाल प्रेरक व समाजसेवियों को सम्मानित किया। नव्या उदैनिया, पूजा वंशकार, अतिथि यादव, दक्ष सक्सेना और समाजसेवी डॉ. राजू त्यागी, रमेश गांधी, रफीक राइन, सुदीप तिवारी, राहुल ठाकुर और रामजीवन का शॉल, श्रीफल से सम्मान किया। मुख्यमंत्री सीहोर जिले के पिपलानी और सिराली गांव भी पहुंचे और लोगों को टीकाकरण कराने का संकल्प दिलवाया। बुधनी के पास एक गांव में जब शिवराज पहुंचे तो प्रदेश में टीकाकरण का आंकड़ा दस लाख पहुंच गया था। वहां उन्होंने लक्ष्य प्राप्ति की घोषणा की और कहा कि मैंने, मेरी पत्नी और परिवार के अन्य सदस्यों ने टीका लगवा लिया है। एक बेटे को कोरोना संक्रमण हुआ था, इसलिए प्रोटोकॉल के तहत उसे तय समय पूरा होने पर टीका लगवाया जाएगा।

बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए विशेष व्यवस्था : प्रदेश में टीकाकरण को लेकर बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी। प्रशासन की ओर से उन्हें लाने और ले जाने के लिए वाहनों का इंतजाम किया गया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि टीकाकरण के आंकड़े साबित कर रहे हैं कि प्रदेश की जनता कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने को तैयार हो गई है। दिन में सभाओं में उल्लेख किया कि प्रति घंटा टीकाकरण की संख्या दोगुनी हो रही है। मीडिया और आपदा प्रबंधन समितियों, समाजसेवियों और प्रशासन की भूमिका की भी उन्होंने सराहना की।

निरंतर जारी रहेगा टीकाकरण

महाअभियान, सक्रिय भूमिका निभाएंगे कोरोना वॉलंटियर्स

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि टीकाकरण अभियान 21 जून के बाद भी प्रदेशभर में निरंतर चलेगा। जिन स्थानों पर टीकाकरण पूरा हो जाएगा, वहां से सेंटर अन्य स्थानों पर स्थानांतरित किए जाएंगे। जनजागरूकता के लिए पंजीबद्ध एक लाख से अधिक पंजीकृत कोरोना वॉलंटियर्स टीकाकरण महाअभियान में सक्रिय भूमिका निभाएंगे। एक जुलाई को फिर तीन दिवसीय टीकाकरण अभियान चलेगा। इसमें आमजन को प्रेरित करने के लिए जागरूकता यात्राएं निकाली जाएंगी

मप्र कांग्रेस का ट्वीट शिवराज ने किया रिट्वीट : कांग्रेस के टि्वटर हैंडल से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ व पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव ने लोगों से टीका लगवाने की अपील की। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दोनों के ट्वीट को रिट्वीट कर धन्यवाद दिया।