Jain
ब्रेकिंग
प्लॉट खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान, बढ़ेगी सकारात्मक ऊर्जा और होगा भरपूर लाभ कर्ज से मुक्ति के लिए आजमाएं वास्तु शास्त्र से जुड़े उपाय भगवान कृष्ण से सम्बंधित 13 खास मंदिर 14 घंटे रेस्क्यू चलने के बावजूद 17 लोगों को नहीं खोज सके; घाटों पर गोताखोर तैनात जहां सीएम मनाएंगे अमृत महोत्सव, वहां कलेक्टर-आईजी ट्रैक्टर से पहुंचे भाद्रपद माह में जन्माष्टमी और गणेश उत्सव जैसे कई बड़े त्योहार घर में इस जगह पर रखें फेंगशुई ड्रैगन, सकारात्मक ऊर्जा का होगा संचार और बरसेगा धन इन लॉकेट को पहनने के जानें फायदे और नुकसान, धारण करने के जानें नियम सुबह से खिली है तेज धूप; जुड़ने लगे हैं गंगा के घाट अंबाला कैंट के PWD रेस्ट हाउस में सुनेंगे शिकायतें

सड़क में घायल मिला युवक, उपचार के दौरान मौत

बिलासपुर। रविवार कोनी थाना क्षेत्र गतौरी में सड़क किनारे गांव का युवक घायल अवस्था में मिला। युवक को स्वजन सिम्स लेकर पहुुंचे। सिम्स में युवक ने दम तोड़ दिया। इसकी सूचना पर कोनी पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पूछताछ के दौरान मृतक के स्वजन बार-बार बयान बदल रहे हैं। इससे मामला संदिग्ध हो गया है।

कोनी थाना प्रभारी रविंद्र यादव ने बताया कि गतौरी निवासी राजेश यादव(19 वर्ष) रविवार की रात खाना खाने के बाद अपने भाई राजा के साथ जानवर हकालने की बात कर घर से निकला था। कुछ देर बार वह सेंदरी-गतौरी मुख्यमार्ग के पास बेहोशी की हालत में मिला। युवक के शरीर के कई हिस्सों में चोट के निशान थे। स्वजन उसे लेकर सिम्स पहुंचे। यहां उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई।

इस पर डाक्टरों ने घटना की जानकारी कोनी पुलिस को दी। इस पर कोनी पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पूछताछ के दौरान स्वजन पहले शराब पीकर गिरने की बात कहते रहे। बाद में अज्ञात पिकअप वाहन की टक्कर से घायल होना बताया।

मृतक के स्वजन के बार-बार बयान बदलने से पुलिस उलझ गई है। फिलहाल पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से युवक के मौत का कारण स्पष्ट होगा। इसके बाद पुलिस एक बार फिर से मृतक के परिवार वालों का बयान दर्ज लेगी।

बयान बदलने के बाद हो रहा संदेह

थाना प्रभारी रविंद्र यादव ने बताया कि मृतक के स्वजन ने पहले शराब पीकर गिरने की बात कही थी। इसके बाद पिकअप की टक्कर से घायल होना बताया। इससे पुलिस को मामले में संदेह हो रहा है। मृतक पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद एक बार फिर से मामले में पूछताछ होगी। इससे मामला स्पष्ट हो सकेगा।