Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

इस खिलाड़ी को चुना गया 21वीं सदी का सबसे महान कप्तान, ये दिग्गज छूटे पीछे

नई दिल्ली। 21वीं सदी के महानतम टेस्ट कप्तान के रूप में ऑस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ को चुना गया है। इस लिस्ट में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ, हमवतन पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग और वर्तमान भारतीय टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली को पीछे छोड़ा है। इसकी घोषणा भारत और न्यूजीलैंड के बीच जारी डब्ल्यूटीसी फाइनल के पांचवें दिन भोजनकाल के बाद की गई।

स्टार स्पो‌र्ट्स की तरफ से स्टीव वॉ के नाम की घोषणा करते हुए भारत के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा कि पोंटिंग, कोहली, स्मिथ और स्टीव के नामों में अंत तक स्मिथ और स्टीव के बीच लड़ाई जारी रही। हालांकि, अंत में स्टीव ने बाजी मारी, क्योंकि उनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया 48 सप्ताह में से 46 सप्ताह तक शीर्ष पर रही। ऑस्ट्रेलिया ने स्टीव की कप्तानी में पूरे विश्व में सब जगह जीतकर लगातार 16 टेस्ट मैच जीते। यह अभियान तब टूटा जब भारत ने स्टीव की टीम को सौरव गांगुली की कप्तानी में साल 2001 में टेस्ट सीरीज में हराया।

मालूम हो कि स्टीव ने आस्ट्रेलिया के लिए 1999 से 2004 तक 57 टेस्ट मैचों में कप्तानी की, जिसमें 41 जीत और नौ हार के साथ सात ड्रा मैच शामिल रहे। इतना ही नहीं, विश्व क्रिकेट के कम से कम 25 टेस्ट मैचों की कप्तानी करने वाले कप्तानों में स्टीव के जीत का प्रतिशत सबसे अधिक 71.92 है। ग्रीम स्मिथ का जीत प्रतिशत 48.62 है, जबकि पोंटिंग और कोहली का जीत प्रतिशत क्रमश: 62.33 और 59.01 है। स्टीव ने आस्ट्रेलिया के लिए कुल 168 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उनके नाम 32 शतकों और 50 अर्धशतकों के साथ 10927 रन दर्ज हैं।

आपको जानकर हैरानी होगी कि 21वीं सदी में भारतीय टीम की कप्तानी महेंद्र सिंह धौनी ने भी की, लेकिन उनका नाम इस लिस्ट में ही नहीं है, क्योंकि उन्होंने टेस्ट मैच काफी संख्या में जीते थे, लेकिन उतने भी नहीं जीते थे, जितने ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान स्टीव वॉ, रिकी पोंटिंग और ग्रीम स्मिथ ने अपनी टीमों को जिताए थे।