Braz
ब्रेकिंग
ग्रीस में छुट्टियां मनाकर लौटे हार्दिक पांड्या फतेहाबाद में 2 शिकायतों के बाद सेंट्रल बैंक की जांच में खुलासा; हैड कैशियर पर FIR युवक की तलाश करने उतरे मछुआरे की मिली लाश 10 महीने बाद किसानों ने खोला मोर्चा, लखीमपुर बना ‘मिनी पंजाब’; केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी की बर्खास्तगी की मांग शहर में 10 घंटे रहेंगे शाह... सुरक्षा में तैनात रहेंगे 40 आईपीएस अफसर और 3000 जवान बिहार में मौसम विभाग का अलर्ट दवा के साथ न करें इन चीजों का सेवन सबरीमाला मंदिर का इतिहास भगवान श्रीकृष्ण की हर लीला भक्तों के मन को है लुभाती निजी क्षेत्र में देश का सबसे बड़ा 2600 बेड का है अस्पताल, 64 आपरेशन थियेटर, 81 गंभीर बीमारियों के स्पेशलिस्ट डॉक्टर करेंगे इलाज

छत्तीसगढ़ के वर्चुअल योग मैराथन को मिली पहचान, गोल्डन बुक आफ रिकार्ड में दर्ज

रायपुर। सातवें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर आयोजित वर्चुअल योग मैराथन में सर्वाधिक पंजीयन के लिए छत्तीसगढ़ को गोल्डन बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड में शामिल किया गया है। प्रदेश में 28 जिलों से कुल 10 लाख 41 हजार 595 लोगों ने इसके लिए आनलाइन पंजीयन कराया था। गोल्डन बुक आफ वर्ल्ड रिकार्ड ने ‘मोस्ट पीपल रजिस्टर्ड फार ए वर्चुअल योगा मैराथन’ के लिए छत्तीसगढ़ सरकार के समाज कल्याण विभाग को सर्टिफिकेट आफ एक्सीलेंस से नवाजा है।

मंगलवार को महिला बाल विकास एवं समाज कल्याण मंत्री अनिला भेड़िया के नेतृत्व में समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से सौजन्य मुलाकात कर उन्हें यह प्रमाणपत्र सौंपा। इस मौके पर समाज कल्याण विभाग की सचिव रीना बाबा साहेब कंगाले, समाज कल्याण विभाग के संचालक पी. दयानंद शामिल थे।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी। उल्लेखनीय है कि पांच जून से 20 जून तक वर्चुअल योग मैराथन के लिए आनलाइन पंजीयन किया गया। इसमें छत्तीसगढ़ के सभी जिलों से लोगों ने बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। 28 जिलों से कुल 10 लाख 41 हजार 595 लोगों ने वर्चुअल योगा मैराथन के लिए पंजीयन कराया था।

इधर-योगा फार यूथ पर कोलंबिया में वेबिनार

कोलंबिया कालेज टेकारी में योगा फार यूथ विषय पर आनलाइन वेबिनार का आयोजन किया गया। कोलंबिया कालेज हमेशा ही छात्रों के समग्र विकास पर ध्यान देता है। इसके चलते ही इस प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए जाते रहते है। इस वेबिनार में बताया गया कि युवाओं के लिए योग क्यों जरूरी है। मुख्य अतिथि डा. आशु गोयल रही। उन्होंने कहा कि योग हमेशा गुरु के मार्गदर्शन में किया जाना चाहिए। योग हमारे स्वास्थ्य के साथ ही लक्ष्य को पूरा करने में भी सहायक होता है। इसके साथ ही उन्होंने छात्रों को योग के विभिन्न आसनों की जानकारी दी गई।

Braz