Jain
ब्रेकिंग
रमा देवी बंशीलाल गुर्जर और नम्रता प्रितेश चावला के नाम पर चल रहा मंथन महिलाओं की उंगलियां होती है ऐसी, स्वभाव से होती हैं गंभीर और बड़ी खर्चीली इन चीजों से किडनी हो सकती है खराब दिल्ली से किया था नाबालिग को अगवा, CCTV फुटेज से आरोपियों की हुई थी पहचान गृह विभाग में अटकी फ़ाइल, क्या रिटायर्ड होने के बाद होगा प्रमोशन एशिया कप के लिए टीम का ऐलान आज वास्तु की ये छोटी गलतियां कर सकती हैं आपका बड़ा नुकसान, खो सकते हैं आप अपना कीमती दोस्त आय से अधिक संपत्ति मामले में शिबू सोरेन को लोकपाल का नोटिस बाइक से कोरबा लौटने के दौरान हादसा, दूसरे जवान की हालत गंभीर; पुलिस लाइन में पदस्थ थे दोनों | road accident in chhattisharh; bike rider chhattisgarh p... खरीदें Redmi का शानदार 5G स्मार्टफोन

जस्टिस श्रीवास्तव ने की नेशनल लोक अदालत की आनलाइन समीक्षा

जबलपुर। उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधिपति एवं मुख्य संरक्षक मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायमूर्ति मोहम्मद रफीक के मार्गदर्शन में 10 जुलाई को नेशनल लोक अदालत का आयोजन होना है। न्यायमूर्ति प्रकाश श्रीवास्तव प्रशासनिक न्यायाधिपति एवं कार्यपालक अध्यक्ष राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने समस्त विभागों के साथ नेशनल लोक अदालत के आयोजन की तैयारियों की आनलाइन समीक्षा की। लोक अदालत को सफल बनाए जाने हेतु विस्तृत चर्चा की गई एवं सुझावों को भी आमंत्रित किया गया।

बैठक में शामिल हुए अधिकारी : बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह विभाग, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य विभाग, प्रमुख सचिव वित्त विभाग, अपर मुख्य सचिव सामान्य प्रशासन विभाग, संचालक महिला एवं बाल विकास विभाग, सचिव विधि और विधायी कार्य विभाग, प्रमुख सचिव ऊर्जा विभाग, प्रमुख सचिव श्रम विभाग, अपर मुख्य सचिव परिवहन विभाग, प्रमुख सचिव सहकारी विभाग, प्रमुख सचिव नगरीय विकास विभाग, अपर मुख्य सचिव पंचायत ग्रामीण विकास विभाग, महानिदेशक जेल विभाग और निदेशक लोक अभियोजन के अधिकारी उपस्थित रहे।

अधिक प्रकरणों के निराकरण करने दिशा-निर्देश दिए : कार्यपालक अध्यक्ष द्वारा बैठक में आगामी नेशनल लोक अदालत के सफल आयोजन तथा अधिक से अधिक प्रकरणों के निराकरण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। आगामी नेशनल लोक अदालत का आयोजन 10 जुलाई को किया जाना हैं। जिसमें सभी प्रकार के राजीनामा योग्य दीवानी एवं आपराधिक मामलों सहित प्रीलिटिगेशन (मुकदमा पूर्व) के अंतर्गत, बैंक रिकवरी संबंधी मामले, श्रम विवाद संबंधी मामले, विद्युत एवं जल कर, बिल संबंधी (सिर्फ शमनीय प्रकरण) इत्यादि मामले रखे जाएंगे। जिनमें पक्षकार आपसी सामंजस्य और सुलह एवं सहमति से प्रकरणों का निराकरण कराने हेतु प्रयास कर सकेंगे। यह नेशनल लोक अदालत उच्च न्यायालय स्तर से लेकर जिला न्यायालय, तालुका न्यायालय, श्रम न्यायालय, कुटुंब न्यायालयों में आयोजित की जाएगी। आनलाइन बैठक में मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण की सदस्य सचिव गिरिबाला सिंह, अतिरिक्त सचिव मनोज कुमार सिंह, उपसचिव अरविंद श्रीवास्तव, विधिक सहायता अधिकारी जीशान खान व जीतेंद्र मोहन धुर्वे उपस्थित हुए।