ब्रेकिंग
भगवान राम की भव्य एवं विराट शोभायात्रा पर सुशील शर्मा ने अपने साथियों के साथ की पुष्प वर्षा, भगवान राम की आरती कर उनका आशीर्वाद लेकर , जमकर रामभक्तो क... भाटापारा में धूमधाम से मना राम जन्मोत्सव, विधायक शिवरतन शर्मा भी डीजे की धुन पर थिरके भगवामय हुआ भाटापारा:रामनवमी पर निकाली शोभायात्रा, पूरा शहर ... भाटापारा:रामनवमी पर सनातनी धर्म सेना एवं हिंदू संगठनों ने निकाली भगवान राम भव्य शोभायात्रा, हज़ारों लोग हुवे शामिल विधायक शिवरतन शर्मा ने विधानसभा में उठाए प्रश्नो एवं विकाश कार्यों की मांगों को लेकर की पत्रकारवार्ता किसानो का धान प्रति एकड़ २०क्वींटल ख़रीदी करेगी भूपेश सरकार-सुशील शर्मा किसानो की हमदर्द भूपेश सरकार-सुशील शर्मा छत्तीसगढ़ कांग्रेस प्रवक्ता आरपी सिंह के घर से ईडी निकली बाहर, आरपी सिंह को ईडी अपने साथ दफ्तर ले गई छत्तीसगढ़ कांग्रेस नेता गिरीश देवांगन, देवेंद्र यादव, रामगोपाल अग्रवाल, सन्नी अग्रवाल, विनोद तिवारी, आरपी सिंह के घर सुबह ईडी छापा छत्तीसगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के करीबी कांग्रेसी नेताओं घर में ईडी की रेड गिरीश देवांगन, रामगोपाल अग्रवाल, सन्नी अग्रवाल, विनोद तिवारी के घर पर पड... नजूल शाखा का भाटापारा से बलौदाबाजार जाना दुर्भाग्यपूर्ण -आशीष जायसवाल

अवैध रूप से प्लाटिंग करने वालों और जनक नंदिनी ट्रस्ट से संबंध जमीन हड़पने वालों पर जल्द होगी बड़ी कार्रवाई

भाटापारा । क्षेत्र में अवैध रूप से बिकी और बेची जा रही जमीनों पर विभागीय जांच जारी है। अवैध प्लाटिंग करने वालों को नोटिस भेजने के बाद आगे कार्यवाही का इंतजार हो रहा है। दूसरी ओर जनक नंदिनी ट्रस्ट से संबंध जमीनों के मामले में राजस्व विभाग द्वारा सूची तैयार की जा रही है। तहसीलदार अग्रवाल ने बताया कि शासन से मार्गदर्शन मांगा गया था, जिससे कार्यवाही में समय लगा। वास्तव में 100 एकड़ से ज्यादा जमीनों का मामला है, और इनके बहुत टुकड़े अलग-अलग खातों में दर्ज है ।प्रत्येक खातों का मिलान कर पृथककरण कर सूची तैयार की जा रही है। पूरी सूची बनने के बाद आदेशानुसार कार्यवाही की जाएगी।
उल्लेखनीय है कि ट्रस्ट की 100 एकड़ भूमि के दशकों में हुए सभी नामांतरण व पंजीयन रद्द कर शासनाधीन दर्ज करने के आदेश की चर्चाओं से, शहर में भूमि क्रय करने वाला बड़ा तबका परेशान है। 20 -30 वर्षों पूर्व जमीन खरीदने वाले भी दायरे में आने से हड़कंप की स्थिति है।
शहर में अभी भी धड़ल्ले से अवैध प्लाटिंग का काम जोरों से जारी है। नगर निवेश की नोटिस मिलने का प्लाटिंग करने वालों पर असर नहीं दिख रहा। प्लाट खरीदने वाले जरूर भ्रम व भय की स्थिति में है।पूर्व में भी सरकार की कार्यवाही कभी नोटिस से आगे नहीं बढ़ी इसलिए वर्तमान में भी जमीन के कारोबारी ज्यादा गंभीर नजर नहीं आ रहे हैं।

शासन के आदेशानुसार उक्त सभी भूखंड अब शासकीय भूमि के रूप में दर्ज होने हैं।बहुत ज्यादा नंबर होने की वजह से सूचीबद्ध करने में समय लग रहा है।

तहसीलदार, भाटापारा

विभाग द्वारा सभी अवैध कॉलोनाइजर को नोटिस भेजी गई है, और विवेचना कर शीघ्र अगली कार्रवाई होगी

नगर निवेश, अधिकारी