बता दें कि बीते रविवार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि केंद्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सरकार देश के किसानों का जीवन आसान बनाने के लिए निरंतर प्रयास कर रही है और ऐसा ही एक प्रयास प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना है, जिससे उनके जीवन में सकारात्मक बदलाव आया है।

19500 करोड़ रुपए ट्रांसफर

प्रधानमंत्री का यह बयान पीएम किसान सम्मान निधि योजना के तहत वित्तीय लाभ की अगली किश्त जारी करने से ठीक एक दिन पहले आया था। उन्‍होंने सोमवार को एक कार्यक्रम में डिजिटल माध्यम से देशभर के 9.75 करोड़ से अधिक किसानों के खातों में 19,500 करोड़ रुपये ट्रांसफर किए थे।

किसानों से बातचीत का मौका

उन्होंने एक Tweet में कहा था-देश के परिश्रमी किसानों के जीवन को ज्‍यादा से ज्‍यादा आसान बनाने के लिए हमारी सरकार निरंतर काम कर रही है। इस अवसर पर उन्हें इस योजना के कुछ लाभार्थियों के साथ संवाद का अवसर भी मिलेगा। इस योजना से जिस प्रकार हमारे किसान भाई-बहनों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन आया है, वो अत्यंत हर्ष का विषय है।

क्‍या है PM Kisan Yojana

पीएम-किसान योजना के तहत पात्र लाभार्थी किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय लाभ दिया जाता है और इस वित्तीय लाभ को 2000 रुपये की तीन किस्तों में प्रत्येक चार माह में प्रदान किया जाता है। धनराशि को सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में हस्तांतरित किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत अब तक 1.38 लाख करोड़ रुपये से ज्‍यादा की सम्मान राशि किसान परिवारों के बैंक खातों में हस्तांतरित की जा चुकी है।