ब्रेकिंग
मुलायम सिंह यादव मेदांता अस्पताल में हैं भर्ती संजय गांधी टाइगर रिजर्व में बढ़ रही बाघों की संख्या, सैलानियों में भी हो रहा इजाफा सफीदों रोड पर 4 लोगों ने किया हमला, कोर्ट के आदेश पर FIR 50 लोगों को ट्रॉली में बेठाकर सड़क पर दौड़ रहा ट्रैक्टर, मूकदर्शक बनी पुलिस नॉर्थ कोरिया ने जापान के ऊपर से दागी बैलिस्टिक मिसाइल विद्याधाम परिसर गूंज रहा मां पराम्बा के जयघोष एवं स्वाहाकार की मंगल ध्वनि से वीडियो वायरल : एयरपोर्ट पर करीना कपूर के साथ बदसलूकी.. इस देवी मंदिर में है 51 फीट ऊंचे दीप स्तंभ, जान जोखिम में डालकर इन्हें कैसे जलाते हैं मां वैष्णो के दरबार में पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह हर रूप में स्त्री का सम्मान करने से प्रसन्न होती हैं मां जगदंबा

जीवन परमात्मा का दिया हुआ गीत है, उसे प्रेम से गुनगुनाएं- रावतपुरा सरकार

रायपुर: जीवन में गतिशीलता और सही दिशा का होना जरूरी है। जीवन बहती गंगा की भांति होना चाहिए। यह संदेश रावतपुरा महाराज ने दिया। उनके भक्तों ने आनलाइन प्रवचन का आनंद लिया। रावतपुरा महाराज ने कहा कि जीवन परमात्मा का दिया हुआ गीत है, उसे प्रेम से गुनगुनाएं। यदि बुरी आदतों में फंसा व्यक्ति जग जाए और कामना करने लगे कि मुझे बैकुंठ जाना है तो उसके लिए बैकुंठ का मार्ग वहीं से शुरू होता है।

मोक्ष के लिए अर्थ से धन कमाना है, धर्म से अर्थ नहीं कमाना। केवल कामनाओं की पूर्ति के लिए अर्थ मत कमाओ। धन जीवन चलाने के लिए जरूरी है। मगर, धन ही सबकुछ है, यह सोचना मूर्खता है। इंसान के अलावा कोई भी जीव धन नहीं कमाता, फिर भी जीवित रहता है। प्रकृति ने हमें बहुत कुछ दिया है। सबसे बड़ी बात है कि प्रज्ञा दी है, हम जो चाहें वो बन सकते हैं।

इसलिए यदि ईश्वर ने धन दिया है, तो उसका सदुपयो करें। हम दान कर सकें, परोपकार सेवा में लगा सकें, इसलिए भी अर्थ कमाना है। यज्ञ, दान, सेवा और तप, ये चार मनुष्य को पवित्र करने वाले साधन हैं। इनसे ही व्यक्ति के लिए मोक्ष का मार्ग प्रशस्त होता है।

सुरेश्वर महादेवपीठ में सहस्त्रधारा आज

कचना रोड स्थित सुरेश्वर महादेवपीठ में 23 अगस्त को शिवलिंग पर सहस्त्रधारा और रुद्राभिषेक पूजा का आयोजन किया गया है। शहर जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष राकेश के नेतृत्व में सुबह 11 बजे से पूजा-अर्चना की गई। इसके बाद प्रसादी का आयोजन किया गया।