छिंदवाड़ा में बहू ने दी अग्नि परीक्षा, ससुराल पक्ष के आरोपों को झुठलाने अंगारों पर चली

छिंदवाड़ा। जिले के सौसर ब्लॉक में एक महिला को अग्नि-परीक्षा देनी पड़ी। उस महिला पर सास ने आरोप लगाया था कि उसने टोना-टोटका करते हुए पति को अपने वश में कर लिया है। इस आरोप को झुठलाने के लिए महिला को नंगे पैर सुलगते अंगारों पर चलना पड़ा। सौसर तहसील के ग्राम रामकोना के मोहर्रम पर्व के बीच एक दरगाह का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें बाबा महिला पर उसके रिश्तेदारों द्वारा कलंक लगाए जाने के बात कर रहे हैं। वह उसे खुद को पाक साफ साबित करने के लिए जलते अंगारों पर चलने को कहते हैं। इसके बाद महिला दो बार अंगारों पर चलती भी है। इसके बाद में उसके पैर जले या नहीं, यह चेक करने को कहा जाता है। फिलहाल इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज नही हुई है।

महिला ने बताया है कि उसकी सास और ससुरालपक्ष के अन्‍य लोग पति को अपने वश में करने का आरोप लगा रहे हैं, जबकि उसने ऐसा कुछ नहीं किया है। इसी का सबूत देने के लिए वह बाबा की दरगाह में आई थी। बाबा ने कहा कि ऐसा कर सकते हैं। उसने अपनी मर्जी से अंगारों पर चलकर अपनी बेगुनाही का सबूत दिया है। वहीं बाबा ने बताया कि महिला को उसका परिवार, पति को कुछ खिलाने के नाम पर कई दिनों से प्रताड़ित कर रहा है, जिसको पाक साफ साबित करने के लिए उसने महिला की मंजूरी से यह सब किया गया। महिला का कहना है कि वह अपनी मर्जी से इसके लिए राजी हुई थी।