ब्रेकिंग
बकरी चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या सफल बनने के लिए रखें इन मंत्रों का ध्यान गुरुकुल स्कूल मडरिया रही विजेता, डीएफओ ने पुरस्कार देकर किया सम्मानित Business for College Students : कॉलेज स्टूडेंट्स पढ़ाई के साथ–साथ ये शानदान बिज़नेस करें, होगी तगड़ी कमाई खुशखबरी: टाटानगर से पटना तक चलेगी तेजस एक्सप्रेस मां-बेटी-बेटे पर एसिड अटैक, 5 दिन बाद भी दर्ज नहीं हुई FIR आतंकी योग को 2 AK56, 1 पिस्टल और 1 टिफिन बम के साथ किया गिरफ्तार सरकार को दी चेतावनी, कहा- जल्द मांगें पूरी नहीं की तो करेंगे बड़ा आंदोलन जबलपुर होकर जाएगी पटना-सिकंदराबाद स्पेशल ट्रेन 27 अक्टूबर से 1070 एकड़ प्रोजेक्ट में राइट्स बढ़ाने की रखी डिमांड, IFSC-यूनिवर्सिटी का दिया प्रपोजल

VIDEO: देखिए- कैसे शिवराज सिंह की ‘पावरी हो रही है’, अलग अंदाज में नजर आए मध्‍य प्रदेश के मुख्‍यमंत्री

इंदौर। सोशल मीडिया पर इन दिनों ‘पावरी हो रही है’ पर काफी वीडियो देखने को मिल रहे हैं। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी एक कार्यक्रम में दौरान ‘पावरी हो रही है’ के अंदाज में लोगों को संबोधित करते हुए नजर आए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की छवि बेहद अलग है। वह जब बोलते हैं, तो सामने वाले के पास कोई जवाब नहीं होता। मंगलवार को एक कार्यक्रम के दौरान उन्‍होंने कहा, ‘मैं कहता था टाइगर अभी जिंदा है। हां, टाइगर जिंदा है और शिकार पर निकला है। शिकार हो रहा है भूमाफिया का, चिटफंड के दलालों का, नशे के कारोबारियों का, मां-बेटी-बहन की जिंदगी को बदतर बनाने वालों का। कल ही विधानसभा में मतांतरण के खिलाफ कानून पारित कर दिया है।’

शिवराज सिंह चौहान ने कहा- यह मैं हूं, यह मेरी सरकार है, यह मेरी प्रशासनिक टीम है और आप देखो भूमाफिया भाग रहा है। मैं, आपकी सेवा के लिए आया हूं। राजधर्म का पालन कर रहा हूं। मैं फिर कह रहा हूं कि अच्छे लोगों के लिए फूल-सा कोमल और दुष्टों के लिए वज्र-सा कठोर हूं। मैंने अधिकारियों को स्पष्ट कह रखा है, मैं मुख्यमंत्री हूं, तबाह कर दो माफिया को, किसी को नहीं छोड़ना है। अगर जरूरत पड़े, तो आउट आफ द वे जाकर भी मदद करो। मैं कहता था जमीन में 10 फीट गाड़ दूंगा। गाड़ने का मतलब गड्ढा खोदना नहीं होता है। आज देखो माफिया भाग रहा है। इस अवसर पर भूमाफिया के खिलाफ कार्रवाई के कारण प्लाट प्राप्त करने वाले लोगों ने मुख्यमंत्री का सम्मान किया।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘जब मुझे सांसद शंकर लालवानी और विधायक महेंद्र हार्डिया ने लोगों की समस्या बताई। जैसे ही मुझे समझ में आया तो अंदर से आवाज आई ‘शिवराज काहे के लिए चुप हो’। आज मैं कह रहा हूं। मेरी सरकार का लक्ष्य है, आम जनता को न्याय दिलवाना। आपकी मुस्कान ही मेरा उपहार है। मैं आपका सेवक हूं।

शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों से कहा कि वे इसी तरह से कार्रवाई करते रहें। लोगों को कब्जे दिलवाओ, मकान बनवाओ, भूमाफिया भाग रहे हैं, पनाह मांग रहे, पैसे बांटते फिर रहे हैं। हमें कानूनी लड़ाई भी मिलकर लड़नी है, क्योंकि इन माफिया के सारे दांव हम जानते हैं। ये सत्ता के दलाल हैं। कोई अब्बू, बब्बू, छब्बू, बाबी अब नहीं बचेंगे। इन लोगों ने ड्राइवर, माली, झाड़ू-पोंछा करने वालों को अध्यक्ष बना दिया। वहीं, जो अफसर इसमें दोषी हैं, वे भी नहीं बचेंगे।