ब्रेकिंग
अलवर पुलिस ने जीरो FIR दर्ज कर रेवाड़ी भेजी; महिला पर संगीन आरोप AAP सुप्रीमो ने ट्वीट लिखा- गुजरात का सह प्रभारी बनने के बाद AAP सांसद केंद्र के टारगेट पर टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें | How to Setup Tiffin Service centre in hindi छत्तीसगढ़ के स्टार्टअप ईको सिस्टम को देखने जल्द आयेगा ऑस्ट्रिया का दल एंबुलेंस में पकड़े गए 25 करोड़ के फर्जी नोट नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने नगर पंचायत समोदा को प्रदान की एम्बुलेंस गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के करीबियों को मारने की बना रहे थे प्लानिंग, 4 पिस्टल रिकवर मोहन भागवत - संकट में केवल भारत ने की श्रीलंका की मदद गांव मेघनवास के पास प्लास्टिक पाइप में फंसा था, नहीं हुई पहचान इटावा डीएम कार्यालय के बाहर किसानों का प्रदर्शन, पीड़ित बोले सुनवाई नही तो करेंगे आत्मदाह

इंदौर में लव जिहाद, वाट्सएप हैक कर बातें की, इंस्टा पर फोटो डाले, धर्म बदल शादी का बोला

इंदौर। शहर में लव जिहाद का एक ओर मामला सामने आया है। लसूड़िया थाना पुलिस ने स्कीम-78 निवासी छात्रा की शिकायत पर फरदिल फारुकी के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया है। फारुकी ने छात्रा की मां का वाट्सएप भी हैक कर लिया था। वह उसके साथ खींचे फोटो इंस्टाग्राम पर पोस्ट कर धर्म परिवर्तन और शादी के लिए दबाव बना रहा था।

पुलिस के अनुसार धार रोड़ (लाबरिया भेरु) निवासी फरदिल फारुकी पहले छात्रा के साथ पढ़ता था। स्कूल छोड़ने के बाद भी वह छात्रा के संपर्क में था और उससे बातचीत भी करता रहा था। आरोपित ने बहाने से छात्रा की मां के वाट्सएप का लागइन व पासवर्ड लेकर स्वयं के नंबर डाल दिए और पूरा अकाउंट हैक कर लिया। यह बात छात्रा के स्वजनों को पता चली तो फरदिल ने माफी मांगी और चाचा अमजद फारुकी से भी बात करवा दी।

इसके बाद आरोपित छात्रा से फिर मिलने जुलने लगा। कुछ समय बाद आरोपित ने स्कीम-78 में ही एक कैफे पर मिलने बुलाया और छात्रा के साथ आपत्तिजनक स्थिति में फोटो व वीडियो बना लिया। उसने छात्रा पर शादी का दबाव बनाया और कहा तुझे धर्म परिवर्तन करना पड़ेगा। आरोपित ने छात्रा के अश्लील फोटो इंस्टाग्राम पर अपलोड कर वायरल कर दिए।

इन धाराओं में दर्ज हुआ प्रकरण

छात्रा स्वजनों के साथ थाना पहुंची और एसआइ किर्ती तोमर को पूरा घटनाक्रम बताया। पुलिस ने उसके बयानों के बाद आरोपित फरदिल पर धारा 354, 354(घ) और मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम की धाराओं में केस दर्ज किया है।