ब्रेकिंग
Essay Help From Licensed Authors Come affrontare Nervosismo estremo मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना 'महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना' के शुभारंभ महिला श्रमिक की मौत पर की खबर के बाद जागे परिवहन विभाग और ट्रैफिक पुलिस, नामली थाना क्षेत्र में की कार्रवाई AIIMS : ड्यूटी के दौरान मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर बैन अब तक 7 के शव बरामद, आईएएफ ने 2 चीता हेलीकॉप्टर किए तैनात, 8 लोगों का सफल रेस्क्यू क्या Pavitra Punia- Ejaz Khan ने  कर ली सगाई? दशहरे के दिन ही खुलता है रावण के इस मंदिर का द्वार खुद स्टार्ट किया पम्पिंग सेट, कहा- पशुओं में दूध की होती है वृद्धि हटाए गए कर्मियों को नौकरी देने की मांग, 19-20 को करेंगे भूख हड़ताल

बाढ़ से बेहाल असम- तेलंगाना और उत्तराखंड, नदियों का जलस्तर बढ़ा

नई दिल्ली। देश के किसी ना किसी इलाकें में लगातार बारिश हो रही है। पहले ही बाढ़ से प्रभावित यूपी-बिहार, असम सहित बंगाल में नदियों का जलस्तर बढ़ चुका है। अब खबर है कि असम में भी बाढ़ जैसे हालात बने हुए हैं। भारी बारिश के चलते ब्रह्मपुत्र नदी और उसकी सहायक नदियां उफान पर हैं। इसके चलते तिनसुकिया-डिब्रूगढ़ में लाइका-दधिया के गांव जलमग्न हो गए हैं। कामरूप के पानीखैती गांव में भी भारी बारिश के चलते पानी घुस गया है। लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं भारी बारिश के चलते भूस्खलन की घटनाएं भी बढ़ रही हैं।

उत्तराखंड के धारचूला में तीन घर गिरे, 3 लोगों की मौत

पीटीआइ के मुताबिक, भारी बारिश के चलते उत्तराखंड के धारचूला में तीन घर गिर गए। इस दौरान 3 लोगों की जान चली गई है। इसके अलावा न्यूज एजेंसी आइएनएस ने बताया कि तेलंगाना में भी भारी बारिश के चलते तबाही मची हुई है। यहां पर विकाराबाद और रंगा रेड्डी जिलों में दो अलग-अलग घटनाओं में एक दुल्हन समेत पांच लोगों के डूबने की खबर है। बचावकर्मियों का खोजी अभियान जारी है।

यूपी में भी बाढ़ से बुरा हाल, घरों में घुसा पानी; जारी हुआ अलर्ट

यूपी में भी इस वक्त भारी बारिश के चलते बुरा हाल है। यहां पर स्थित अमरोहा के गांवों में पानी घुस गया है। जिसके चलते लोगों की परेशानी बढ़ गई है। रिपोर्ट के मुताबिक, अमरोहा जनपद के गजरौला इलाके में तिगरी गंगा व रामगंगा पोषण नहर के जलस्तर में लगातार इजाफा हो रहा है। अब बाढ़ के पानी ने गंगा किनारे पर बसे गांवों की तरफ रूख कर दिया है। इससे खेत रास्ते पूरी तरह से जलमग्न हो गए हैं। वहीं मुरादाबाद में बाढ़ का खतरा बना हुआ है। यहां पर रामगंगा नदी का जलस्तर बढ़ गया है। बाढ़ चौकियों के कर्मचारियों अलर्ट कर दिया गया है।