ब्रेकिंग
Come affrontare Nervosismo estremo मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना 'महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना' के शुभारंभ महिला श्रमिक की मौत पर की खबर के बाद जागे परिवहन विभाग और ट्रैफिक पुलिस, नामली थाना क्षेत्र में की कार्रवाई AIIMS : ड्यूटी के दौरान मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर बैन अब तक 7 के शव बरामद, आईएएफ ने 2 चीता हेलीकॉप्टर किए तैनात, 8 लोगों का सफल रेस्क्यू क्या Pavitra Punia- Ejaz Khan ने  कर ली सगाई? दशहरे के दिन ही खुलता है रावण के इस मंदिर का द्वार खुद स्टार्ट किया पम्पिंग सेट, कहा- पशुओं में दूध की होती है वृद्धि हटाए गए कर्मियों को नौकरी देने की मांग, 19-20 को करेंगे भूख हड़ताल रेलवे स्टेशन पर रेलकर्मी को बदमाशों ने पीट-पीट कर किया घायल, की लूटपाट

नकली सोने का हार थमाकर युवक से 10 लाख की ठगी

भोपाल। कोहेफिजा थाना पुलिस ने एक युवक की शिकायत पर दंपती के खिलाफ 10 लाख रुपये की ठगी करने का केस दर्ज किया है। फरियादी युवक इंदौर का रहने वाला और पेशे से दर्जी है। पुलिस द्वारा सीसीटीवी कैमरों में मिले फुटेज के आधार पर आरोपितों की तलाश की जा रही है।

कोहेफिजा थाना प्रभारी अनिल वाजपेयी ने बताया कि इंदौर निवासी पदम सिंह राठौर ने शिकायत दर्ज कराई है। पदम सिंह की बहन कैंसर के इलाज के लिए 21 अगस्त को चिरायु अस्पताल में भर्ती हुई थी। बहन की देखरेख के लिए पदम सिंह अस्पताल में रुके थे। इस दौरान उन्हें लखन नाम का व्यक्ति एक महिला के साथ मिला। लखन ने महिला का परिचय अपनी पत्नी के रूप में दिया था। लखन ने बताया कि उसका बेटा गंभीर रूप से बीमार है। उसके इलाज के लिए रुपयों की जरूरत है। उन लोगों के पास चांदी के पुराने 500 सिक्के और एक सोने का हार है। सिक्के और हार का बाजार मूल्य 50 लाख रुपये है, लेकिन जरूरत के कारण वह 20 लाख रुपये में बेच देगा। लालच में आकर पदम सिंह 10 लाख रुपये का इंतजाम कर लिया था। लखन और उसकी पत्नी ने 31 अगस्त को 10 लाख में हार देने के लिए पदम सिंह को हमीदिया अस्पताल परिसर में बुलाया। हार लेने के बाद पदम सिंह इंदौर चला गया। वहां सुनार से जांच कराने पर पता चला कि हार नकली है। इसके बाद उसने घटना की लिखित शिकायत थाने में दर्ज कराई थी। शिकायत की जांच के बाद पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज करते हुए आरोपित जालसाज दंपती की तलाश शुरू कर दी है।