ब्रेकिंग
साकेत कोर्ट ने शरजील इमाम को दी जमानत पोहा बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें या पोहा मिल कैसे लगाये |Poha Making Business In Hindi बुमराह की जगह मोहम्मद सिराज टीम इंडिया में शामिल एमपीपीईबी व एमपीपीएससी में 5 साल से नहीं हुई भर्ती, छात्रों ने निकाली रैली दीपावली के अगले दिन रहेगा सूर्य ग्रहण, करीब एक घंटे का रहेगा समय क्या फ्लॉप फिल्मों के बाद आयुष्मान खुराना ने घटाई फीस? जबलपुर आर्डनेंस फैक्ट्री में आग से झुलसे गंभीर नंद किशोर को एयर एंबुलेंस से मुंबई ले जाने की तैयारी ITBP के SI ने की आत्महत्या, दफ्तर में फंदे पर लटकी मिली लाश बस्तर संभाग में नौ नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण चायपत्ती के बैग बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें | How to Start Tea Bag Making Business Plan In Hindi

जालोर में इमरजेंसी फील्ड लैंडिंग का उद्घाटन, राजनाथ सिंह और नीतिन गडकरी रहे मौजूद

नई दिल्ली। पाकिस्तान सीमा से 40 किलोमीटर दूर राजस्थान के जालोर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर आज इमरजेंसी फील्ड लैंडिंग का उद्घाटन किया। इस दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और चीफ आफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत भी मौजूद रहे। बता दें कि आज भारत-पाक बार्डर पर बाड़मेर-जालोर जिले की सीमा पर अगड़ावा में बन रही देश की पहली इमरजेंसी एयर स्ट्रिप का आज उद्घाटन हुआ। इससे पहले बुधवार को यहां रिहर्सल के तौर पर तीन फाइटर प्लेन उतारे गए थे। इसके लिए एयरफोर्स अधिकारियों की निगरानी में सुबह सबसे पहले हरक्यूलिस प्लेन को उतारा गया। पाकिस्तान बार्डर से सटी देश की यह पहली हवाई पट्टी है। तो आइए तस्वीरों में देखते हैं कार्यक्रम की ताजा स्थिति।

राजस्थान के जालौर में गुरुवार को बाड़मेर हाइवे पर स्पेशल एयरस्ट्रिप की शुरुआत हो गई है। पाकिस्तान से सटी सीमा पर सुखोई और जगुआर जैसे वायुसेना के लड़ाकू विमानों ने यहां पर अपना दम दिखाया और हाइवे पर लैंडिंग की।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत राजस्थान के जालोर में राष्ट्रीय राजमार्ग पर इमरजेंसी फील्ड लैंडिंग के उद्घाटन के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल हुए।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में इसकी शुरुआत की गई थी। खास बात ये है कि दोनों मंत्री भी वायुसेना के स्पेशल विमान से इसी एयरस्ट्रिप पर आए थे।

ये एयरस्ट्रिप भारत-पाकिस्तान सीमा के पास ही स्थित है। ऐसे में ऐसे में भविष्य में सामरिक रूप से भी इसकी काफी अहमियत होगी।