ब्रेकिंग
मथुरा पुलिस के हाथ लगे संदिग्ध के फोटो, चोरों की तलाश में जुटी पुलिस इलेक्शन मोड में काग्रेस, इसलिए 'दागियों' पर अभी नो एक्शन डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग की व्यवस्था – मुख्यमंत्री चौहान अलवर पुलिस ने जीरो FIR दर्ज कर रेवाड़ी भेजी; महिला पर संगीन आरोप AAP सुप्रीमो ने ट्वीट लिखा- गुजरात का सह प्रभारी बनने के बाद AAP सांसद केंद्र के टारगेट पर टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें | How to Setup Tiffin Service centre in hindi छत्तीसगढ़ के स्टार्टअप ईको सिस्टम को देखने जल्द आयेगा ऑस्ट्रिया का दल एंबुलेंस में पकड़े गए 25 करोड़ के फर्जी नोट नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने नगर पंचायत समोदा को प्रदान की एम्बुलेंस गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के करीबियों को मारने की बना रहे थे प्लानिंग, 4 पिस्टल रिकवर

दस माह से फरार था ‘नटवरलाल’, पुलिस ने पकड़ा तो जेब में जमानत के कागज मिले

भोपाल। किसी जमाने में ठगी के मामले में कुख्यात रहे नटवरलाल की तर्ज पर राजधानी के अनवार बेग ने कई लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। तलैया थाना पुलिस उसे 10 माह से सरगर्मी से तलाश कर रही थी। दो मामलों में एसपी ने उसकी गिरफ्तारी पर दो-दो हजार रुपये का इनाम भी घोषित कर रखा था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया, लेकिन उसे थाने से ही छोड़ना पड़ा। दरअसल उसे हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी थी।
तलैया थाना पुलिस के मुताबिक 28 दसंबर 2020 को मोती मस्जिद के पास रहने वाले फैजान अली ने शिकायत दर्ज कराई थी। उसमें बताया कि एक फ्लैट के नाम पर अनवार बेग ने उससे 16 लाख रुपये लिए थे। बाद में पता चला कि जिस फ्लैट के एवज में अनवार ने उससे रुपये लिए हैं, वह किसी और का है। इसके बाद पुलिस ने अनवार के खिलाफ अमानत में खयानत और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था। इसी तरह घाटी भड़भूंजा में रहने वाले बाबू खान को अनवार ने एक फ्लैट दिलाकर रुपये लिए थे, लेकिन जब वह फ्लैट का कब्जा लेने पहुंचे तो उस फ्लैट में तनवीर नाम का व्यक्ति रहता था। पता चला कि अनवार ने तनवीर के साथ मिलकर बाबू खान से रुपये हड़प लिए थे। इस मामले में दो जनवरी 2021 को अनवार बेग और तनवीर के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत के तहत केस दर्ज किया गया था।
इसी तरह अनवार ने अनवार उल हसन नाम के व्यक्ति को चटोरी वाली गली में दुकान दिलाने के नाम पर पांच लाख रुपये लेकर हड़प लिए थे। इस मामले में 27 फरवरी 2021 को अनवार बेग के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत का केस दर्ज किया था। तीनों मामलों में अनवार फरार चल रहा था। एसपी (नार्थ) ने दो मामलों में फरार ठग अनवार के खिलाफ अलग-अलग दो-दो हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था। बुधवार को मुखबिर की सूचना पर पातरा रोड तलैया निवासी अनवार बेग (53) को हिरासत में लिया गया। थाने लाकर पूछताछ करने पर अनवार बेग ने जबलपुर उच्च न्यायालय द्वारा उसे प्रदान की गई जमानत के दस्तावेज प्रस्तुत कर दिए। इस वजह से विधि अनुसार कार्रवाई करते हुए अनवार को थाने से छोड़ दिया गया। अनवार के खिलाफ कोतवाली, जहांगीराबाद थाने में भी धोखाधड़ी के अपराध दर्ज हैं।