ब्रेकिंग
भाटापारा में स्वीकृत 100 बिस्तर के अस्पताल को कांग्रेस सरकार ने रोक दिया,,, केंद्र सरकार शिवरतन शर्मा की मांग पर यहां 50 बिस्तर का अस्पताल स्वीकृत किय... भाटापारा विधानसभा भाजपा प्रत्याशी के पास है विकास कार्यों की लंबी सूची तो कांग्रेस प्रत्याशी भूपेश सरकार के कार्यों के दम पर लड़ेगी चुनाव शिवरतन ने आज तक जो जो वादा किया सभी को पूरा किया भाजपा सरकार आते ही भाटापारा बनेगा स्वतंत्र जिला- शिवरतन शर्मा ED का गिरफ्तार एजेंट के हवाले से दावा:महादेव सट्‌टेबाजी ऐप के प्रमोटर्स ने CM बघेल को दिए 508 करोड़ रुपए बीजेपी ने 4 उम्मीदवारों की चौथी लिस्ट जारी की छत्तीसगढ़ में कांग्रेस के 7 प्रत्याशियों की सूची जारी, अब सभी 90 सीटों पर कांग्रेस के नाम घोषित 22 विधायकों का टिकट कटा, कसडोल से शकुंतला साहू की भी ट... भाटापारा विधानसभा में शिवरतन शर्मा से सीधा मुकाबला कांग्रेस प्रत्याशी इंद्र साव का होगा, सुनील, सतीश, सुशील, चेतराम को पछाड़ कर इंद्र ने अपने नाम की टि... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की 53 नामों वाली दूसरी सूची जारी हुई, 10 विधायकों का टिकट कटा, भाटापारा से इंद्र साव, बलोदा बाजार से शैलेश नितिन त्रिवेदी को मि... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की 30 नामो वाली सूची जारी, 8 विधायकों का टिकट कटा चुनाव की तारीखों का ऐलान होते ही भाजपा ने की 64 नाम की घोषणा, भाजपा की वायरल हुई सूची सच साबित हुई

ममता के चोटिल होने के चलते आज नहीं जारी होगा तृणमूल का चुनावी घोषणापत्र, अब कल इसे जारी करेंगी ममता

कोलकाता। बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नंदीग्राम में चोटिल होने के बाद तृणमूल कांग्रेस का चुनावी घोषणापत्र अब आज जारी नहीं होगा। ममता आज ही घोषणापत्र जारी करने वाली थी। लेकिन चोटिल होने के बाद फिलहाल वह बुधवार रात से ही कोलकाता स्थित राज्य के सबसे बड़े सरकारी एसएसकेएम अस्पताल में भर्ती हैं। एक्स-रे व एमआरआइ में पता चला है कि उनके पैर सहित शरीर के कई हिस्सों में गंभीर चोट है। फिलहाल वह 48 घंटे तक डॉक्टरों की निगरानी में अस्पताल में ही रहेंगी। इसको देखते हुए तृणमूल कांग्रेस ने आज घोषणा पत्र जारी नहीं करने का फैसला किया है। इसे एक दिन के लिए टाल दिया गया है।

पार्टी की ओर से बताया गया कि सब कुछ ठीक रहा तो कल यानी गुरुवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अपने कालीघाट स्थित आवास से घोषणापत्र जारी करेंगी। गौरतलब है कि बुधवार को नंदीग्राम सीट से नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद ममता वहां कई मंदिरों में गईं थी। इसी दौरान एक मंदिर से बाहर निकलने के बाद वह चोटिल हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि चार-पांच लोगों ने उन्हें जानबूझकर धक्का दे दिया। ममता ने इसके पीछे साजिश का आरोप लगाया। उनका इशारा भाजपा की ओर था। हालांकि भाजपा, कांग्रेस व अन्य दलों ने इसे नाटक करार दिया है।

तृणमूल कांग्रेस का हमले को लेकर प्रदर्शन

पश्चिम बंगाल के आसनसोल में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने नंदीग्राम में ममता बनर्जी पर कथित तौर पर हमले को लेकर प्रदर्शन किया है। जानकारी हो कि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार को नंदीग्राम सीट से नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद चोटिल हो गईं। ममता ने साजिश के तहत उन पर हमले का आरोप लगाया है।जिसके बाद ममता को ग्रीन कॉरिडोर बनाकर नंदीग्राम से बुधवार देर शाम ही कोलकाता लाया गया। यहां राज्य के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल एसएसकेएम में रात में ही उनका इलाज शुरू किया गया जहां फिलहाल वे भर्ती हैं। उन्हें शरीर में पैर सहित कई जगह गंभीर चोटें आई हैं।

मेदिनीपुर के जिलाधिकारी का दौरा

पश्चिम बंगाल के पुरबा मेदिनीपुर के जिलाधिकारी विभु गोयल और एसपी प्रवीण प्रकाश ने नंदीग्राम के बिरुलिया बाजार का दौरा किया है जहां कल शाम अज्ञात लोगों द्वारा कथित रूप से धक्का दिए जाने के बाद मुख्यमंत्री और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी को चोटें आईं थी ।

 चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिलेंगे टीएमसी व भाजपा

पश्चिम बंगाल के कोलकाता में आज चुनाव आयोग के अधिकारियों से मिलने टीएमसी का एक प्रतिनिधिमंडल गया है जो नंदीग्राम में पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी पर कथित हमले की शिकायत दर्ज करने के लिए उनसे मिलेंगे। भाजपा का एक प्रतिनिधिमंडल भी आयोग से मिलकर घटना की उचित जांच की मांग करेगा।

मुख्यमंत्री ने लगाया आरोप

 मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया कि चुनाव प्रचार के दौरान चार-पांच लोगों ने उनको धक्‍का दे दिया था, जिसकी वजह से उनकी ये हालत हुई है। ममता का कोलकाता के एसएसकेएम अस्‍पताल में इलाज करने वाले डॉक्टरों ने उनकी तबीयत का हाल बताया है। डॉक्टरों की टीम ने प्रारंभिक जांच में पाया है पैर सहित ममता बनर्जी के शरीर में कई जगह गंभीर चोटें आई हैं। उन्हें 48 घंटे तक कड़ी निगरानी में रखा जाएगा। सीएम का एसएसकेएम अस्पताल में एक्सरे और एमआरआइ किया गया है।

 ममता के चोटिल होने का मामला चुनाव आयोग ले जाएगी टीएमसी

बुधवार को नंदीग्राम सीट से नामांकन दाखिल करने गई मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के चोटिल होने के मामले को चुनाव आयोग के सामने ले जाएगी तृणमूल कांग्रेस। पार्टी नेता पार्थ चटर्जी ने सीएम पर हमले का आरोप लगाया है, जबकि भाजपा का कहना है कि सीएम को इस मामले की सीबीआइ जांच करानी चाहिए ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो।