ब्रेकिंग
जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे 63 कैदी रिहा भारतीय वायुसेना में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर 'प्रचंड' छत्तीसगढ़: कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल नशे का इंजेक्शन लगाकर गिरते-गिरते अपने मोटरसाइकिल तक पहुंचा युवक, सीधा खड़ा भी नहीं हो पाया पोहा बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें या पोहा मिल कैसे लगाये |Poha Making Business In Hindi कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल युवती को पता चलने पर धमकाया, हिंदूवादी संगठन ने युवक की पिटाई की दुर्गोत्सवऔर दशहरा उत्सव मनाने ट्रैफिक पुलिस ने बनाया प्लान, शाम 5 बजे से रात दो बजे तक रूट रहेगा डायवर्ट महिलाओं ने की 18 किलोमीटर पैदल यात्रा, मां जालपा को ओढाई 72 मीटर लंबी चुनरी MP की सबसे लंबी मोहनिया सुरंग बनकर तैयार, जाने क्या है, खासियत

मुस्लिम शख्स के घर हुई गणेश जी की स्थापना, धार्मिक सौहार्द और भाईचारे की उत्तम मिसाल

खंडवा: खंडवा से धार्मिक सौहार्द को बढ़ाने वाली एक सुंदर तस्वीर सामने आई है। गणेश उत्सव के मौके पर सुभाष नगर में इस बार गणेश जी की प्रतिमा एक मुस्लिम परिवार के घर पर स्थापित की गई। मुस्लिम परिवार ने अपने खाली पड़े मकान में गणेश जी की स्थापना करवाई है। कालोनीवासी भक्ति रस में डूबकर गणेश जी की महिमा का गुणगान कर रहे हैं, और गणेश भक्ति में लीन हैं।

जी हां सुभाष नगर में बना यह मकान आरिफ खान का है। आरिफ खान वैसे तो भोपाल में रहते हैं। लेकिन जब उनके पिता अब्दुल खान खंडवा में थे। तब उन्होंने यह मकान बनाया था। अब आरिफ खान भोपाल शिफ्ट हो गए हैं। तब से मकान भी खाली पड़ा था। कालोनीवासियों को गणेश जी की स्थापना के लिए स्थान नहीं मिल पा रहा था। तो आरिफ खान खुद आगे आए और लोगों की समस्या का हल किया। आरिफ खान का कहना है कि गंगा-जमुनी तहजीब इस देश के लिए जरुरी है।

यही नहीं मकान की दूसरी मंजिल पर रह रहे मुस्लिम परिवार ने इस पूरे मकान की सफाई की, और कॉलोनीवासियों ने यहां गणेश जी की स्थापना की। अब धूमधाम से पूजा-पाठ और आराधना हो रही है। माहौल भक्तिमय है, और सुबह शाम गणेश जी के भजन कीर्तन में लोग आ रहे हैं। वहीं मकान में रह रहे मुस्लिम परिवार भी गणेश पूजा में बराबर हिस्सा ले रहे हैं।

आपको बता दें कि पिछले दिनों सांप्रदायिक तनाव के बाद खंडवा में ये मिसाल एक बड़ी बात है। कालोनी में सांप्रदायिक सौहार्द का बेहतरीन उदाहरण पेश किया है। हर ओर इस पहल की तारीफ जा रही है। अब इस घर मे 10 दिन तक धार्मिक महोत्सव को साथ ही भाइचारे का भी संगम होगा।