भाजपा प्रवेश करने के बाद रायपुर पहुंचे वेदराम का हुआ स्वागत

रायपुर। छत्‍तीसगढ़ में कांग्रेस से नाराज होकर भाजपा प्रवेश करने वाले पूर्व जनपद अध्यक्ष वेदराम मनहरे रविवार को रायपुर पहुंचे। स्वामी विवेकानंद एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं और युवाओं ने मनहरे का जोरदार स्वागत किया। ढोल-नगाड़े के साथ फूलों की माला पहनाकर वेदराम को बधाई दी। वेदराम ने दिल्ली में प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी की मौजूदगी में सदस्यता ग्रहण की। हालांकि एयरपोर्ट पर आरंग और खरोरा क्षेत्र के युवाओं को छोड़कर जिला भाजपा संगठन के पदाधिकारी नदारद नजर आए।
सूत्रों की मानें तो मनहरे को पार्टी में शामिल करने का स्थानीय संगठन विरोध कर रहा है। आरंग क्षेत्र में सक्रिय मनहरे पिछले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के टिकट के दावेदार थे। लंबे समय से कांग्रेस संगठन में उपेक्षा के शिकार मनहरे ने भाजपा का दामन थाम लिया है। वेदराम मनहरे ने मीडिया से चर्चा में कहा कि पार्टी और सरकार में उनकी बात को सुना नहीं जा रहा था। कार्यकर्ताओं के काम को भी नहीं किया जा रहा था। ऐसे में कांग्रेस के साथ चलना मुश्किल हो गया था, इसलिए पार्टी को छोड़ दिया। वेदराम दिल्ली में आरंग और खरोरा के सरपंचों के साथ सदस्यता ग्रहण करने पहुंचे थे।
28 को किसान महापंचायत, गांव-गांव में बैठकों का दौर जारी
केंद्र सरकार द्वारा तीन कृषि कानून के विरोध में छत्तीसगढ़ में 28 सितंबर को किसान महापंचायत होगी। यह महापंचायत तीर्थ स्थल राजिम में होगी। किसान नेता पारसनाथ साहू, गजेंद्र कोसले ने कहा कि महापंचायत को सफल बनाने गांव-गांव में बैठकों का दौर चल रहा है। इसी कड़ी में रविवार को आरंग तहसील के ग्राम निसदा में बैठक आयोजित की। इस मौके पर किसानों स्वयं वाहन व्यवस्था कर बड़ी संख्या में हिस्सा लेने का निर्णय लिया है। किसान नेता परसनाथ साहू ने कहा कि अब छत्तीसगढ़ का किसान जाग चुका है। अपने हक के लिए लड़ना शुरू कर दिया है। सामूहिक एकजुटता से अब हर समस्या का समाधान संभव है। किसानों द्वारा बनाई सरकार को किसान का निर्णय मानना ही पड़ेगा।