ब्रेकिंग
Discovering Academic Term Papers जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा स्कूल में भिड़ीं 3 शिक्षिकाएं, BSA ने तीनों को किया निलंबित दिल्ली से यूपी तक होती रही चेकिंग, औरैया में पकड़ा गया, हत्या का आरोप

ग्रामीणों के साथ जमीन पर बैठकर मंत्री डा प्रेमसाय ने सुनी समस्याएं

अंबिकापुर। स्कूल शिक्षा मंत्री डा प्रेमसाय सिंह ने गृह विधानसभा क्षेत्र प्रतापपुर के दुरती, मरहठा, गोंदा, सतीपारा, केवरा, पार्वतीपुर, सेमराखुर्द, दवनकरा, हरिहरपुर, परमेश्वरपुर, सिंगरी, मटीगड़ा, सरहरी, दरहोरा के ग्रामीणों के साथ जमीन पर बैठकर उनकी समस्या सुनी।बिना किसी तामझाम के गांववालों के साथ बैठे मंत्री ने मांगों, समस्याओं से संबधित आवेदनों पर त्वरित कार्यवाही की।

प्रतापपुर ब्लाक में दिव्यांग प्रमाण पत्र के अभाव में दिव्यांगों को शासकीय योजनाओं का लाभ नहीं मिल पाने की शिकायतों पर उन्होंने त्वरित कार्यवाही करते हुए विशेष दिव्यांग शिविर आयोजित करने का निर्देश दिया ताकि जिला मुख्यालय सूरजपुर जाने में दिक्कत न हो और दिव्यांगों का प्रमाण पत्र आसानी से बन सके।गांववालों को मंत्री के साथ बैठकर चर्चा करने का अवसर जनसंवाद शिविरों की वजह से मिला।
इन शिविरों में कलेक्टर डा गौरव सिंह,जिला पंचायत सीईओ राहुल देव सहित जिले के सभी विभागों के जिला अधिकारी भी शामिल हुए। स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि क्षेत्र में अधिकांश दिव्यांग प्रमाण पत्र नहीं बने हैं और सूरजपुर नहीं जा पा रहे हैं उनकी सुविधा के लिए 25 सितंबर को जिला स्तरीय दिव्यांग प्रमाण पत्र शिविर लगाया जाएगा जिसमें जिले के मेडिकल बोर्ड की टीम दिव्यांग प्रमाण पत्र की सुविधा उपलब्ध कर दिव्यांग जनों को सुविधा उपलब्ध कराएगी।
स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जनसंवाद के माध्यम से राशन, पेंशन, मजदूरी भुगतान एवं अन्य प्रकरणों का निराकरण किया जा रहा है जो सराहनीय है। उन्होंने विभिन्न ग्राम पंचायतों में ग्रामीण जनों के मांगों पर पीडीएस दुकान खोलने स्वीकृति दी है। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्रामीण जनों को राजस्व मामले, फौती सहित अन्य प्रकरणों की प्रक्रिया की जानकारी देकर ग्रामीण जनों को जागरूक किया गया।
जनसंवाद शिविर में ग्रामीण जनों को कोरोना की तीसरी लहर की संभावनाओं को देखते हुए पात्र व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन लगवाने अपील की गई।जनसंवाद शिविर में कोविड वैक्सीन भी लगाया जा रहा है। शिविर के दौरान पेंशन, राशन कार्ड, मजदूरी भुगतान, बिजली समस्या, सड़क एवं पुलिया निर्माण, डबरी एवं कूप निर्माण, राजस्व मामलों के प्रकरणों के आवेदन प्राप्त हुए कुछ आवेदन के त्वरित निराकरण किया गया शेष बचे आवेदनों को निराकरण करने संबंधित विभाग को समयावधि में निराकरण करने के निर्देश दिए गए।
कलेक्टर ने ग्रामीणों की समस्याओं मांगों को सुनकर ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि जनसंवाद शिविर में विभिन्न प्रकार के आवेदन प्राप्त हुए हैं उसे निर्धारित समय में निराकरण किया जाएगा। उन्होंने ग्रामीण जनों को निर्धारित अवधि में निराकरण नहीं होने पर पंचायत भवन में अंकित हेल्पलाइन नंबर में बताने कहा। कलेक्टर ने डबरी निर्माण, कूप निर्माण, पीएम आवास, पशु शेड, पेंशन प्रकरण की स्वीकृति प्रदान की।
स्कूल शिक्षा मंत्री ने गोठान का मशरूम खरीदा
जनसंवाद शिविर के दौरान स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने सत्तीपारा के गौठान में राधा स्व सहायता महिला समूह द्वारा उत्पादित मशरूम खरीदी तथा मल्टी एक्टिविटी के तहत अन्य सब्जियां भी उपजाऊ करने प्रेरित किया जिससे अधिक लाभ अर्जित किया जा सके। इस दौरान कलेक्टर एवं जिला प्रशासन भी मशरूम, करेला, तोरई एवं अन्य सब्जियां खरीदी।