ब्रेकिंग
मथुरा पुलिस के हाथ लगे संदिग्ध के फोटो, चोरों की तलाश में जुटी पुलिस इलेक्शन मोड में काग्रेस, इसलिए 'दागियों' पर अभी नो एक्शन डॉक्टरी-इंजीनियरिंग की पढ़ाई के साथ विद्यार्थियों को स्टार्टअप के लिए भी सहयोग की व्यवस्था – मुख्यमंत्री चौहान अलवर पुलिस ने जीरो FIR दर्ज कर रेवाड़ी भेजी; महिला पर संगीन आरोप AAP सुप्रीमो ने ट्वीट लिखा- गुजरात का सह प्रभारी बनने के बाद AAP सांसद केंद्र के टारगेट पर टिफ़िन सर्विस का बिज़नेस कैसे शुरू करें | How to Setup Tiffin Service centre in hindi छत्तीसगढ़ के स्टार्टअप ईको सिस्टम को देखने जल्द आयेगा ऑस्ट्रिया का दल एंबुलेंस में पकड़े गए 25 करोड़ के फर्जी नोट नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. डहरिया ने नगर पंचायत समोदा को प्रदान की एम्बुलेंस गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया के करीबियों को मारने की बना रहे थे प्लानिंग, 4 पिस्टल रिकवर

BCCI के सचिव ने किया खुलासा, बताया कब तक भारतीय टीम की कप्तानी करेंगे विराट कोहली

नई दिल्ली। सोमवार को एक रिपोर्ट सामने आई, जिसमें कहा गया कि टी20 विश्व कप 2021 के बाद विराट कोहली सीमित ओवरों की कप्तानी से इस्तीफा दे देंगे, क्योंकि तीनों फार्मेट में कप्तानी करने की वजह से उनका बल्लेबाजी पर इसका प्रभाव पड़ रहा है। विराट कोहली से कप्तानी की जिम्मेदारी रोहित शर्मा ले लेंगे, लेकिन कुछ ही घंटों के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने इस बात को नकार दिया कि विराट कोहली कप्तानी छोड़ने जा रहे हैं। अब बीसीसीआइ के सचिव जय शाह ने भी इस बात को कबूल कर लिया है कि भारतीय टीम की कप्तानी में बदलाव नहीं होने जा रहा है। जय शाह ने ये भी बताया कि कब तक विराट कोहली भारतीय टीम की कप्तानी करते रहेंगे।

बीसीसीआइ सचिव जय शाह ने कहा है कि जब तक टीम अच्छा प्रदर्शन करती रहेगी तब तक भारत की कप्तानी में कोई बदलाव नहीं होगा। शाह उन खबरों का जवाब दे रहे थे कि भारतीय टीम प्रबंधन टी20 विश्व कप के बाद स्प्लिट कैप्टेंसी अपना सकता है, जिसमें विराट कोहली टेस्ट टीम का नेतृत्व करेंगे, जबकि रोहित शर्मा सफेद गेंद के प्रारूप में कप्तानी संभालेंगे। हालांकि, सचिव जय शाह ने इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कहा, “जब तक कोई टीम क्रीज पर प्रदर्शन कर रही होती है, तब तक कप्तानी में बदलाव का सवाल ही नहीं उठता।” एक कप्तान के रूप में कोहली का सभी प्रारूपों में प्रभावशाली रिकार्ड है। हालांकि, उनके नेतृत्व की एकमात्र संभावित आलोचना उनकी कप्तानी में एक भी प्रमुख ICC ट्राफी नहीं जीतना है।

आइसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड से हारने से पहले विराट कोहली की कप्तानी में भारत 2019 का वनडे विश्व कप और 2017 की आइसीसी चैंपियंस ट्राफी हार चुका है। भारत का आखिरी वैश्विक खिताब 2013 में आया था, जब एमएस धौनी की कप्तानी में भारत ने चैंपियंस ट्रॉफी जीती थी। संयोग से धौनी, जिन्होंने पिछले साल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया था, अगले महीने शुरू होने वाले टी20 विश्व कप के लिए एक मेंटर के रूप में भारत के सहयोगी स्टाफ में शामिल होंगे। इस कदम के पीछे का विचार ये है कि उनके अनुभव का उपयोग किया जाए।