ब्रेकिंग
बिहार के भागलपुर का तेतरी दुर्गा मंदिर, कभी गांव के लोगों को सपना देकर आयी थीं भगवती प्रदेश में सबसे अधिक सीहोर में शतायु मतदाता, भारत निर्वाचन आयोग करेगा सम्मानित गहलोत की सीएम कुर्सी भी हिलने लगी, दो दिन में सोनिया गांधी लेंगी फैसला खेलते-खेलते नाडी में डूबकर भाई-बहन सहित तीन की मौत सुवेंदु अधिकारी ने सीतारमण को लिखा पत्र, बंगाल सरकार पर फंड डायवर्ट करने का लगाया आरोप पोस्ट को लेकर गहलोत और पायलट समर्थक भिड़े पाकिस्तानी क्रिकेटर शहजाद आजम राणा का कार्डियक अरेस्ट के कारण हुआ निधन आईसीसी ने टी20 वर्ल्ड 2022 की प्राइज मनी का किया ऐलान माँ दुर्गा जी की तीसरी शक्ति का नाम ‘चन्द्रघण्टा’ है केमिकल स्टॉक ने दिया 52 हफ्ते का बेस्ट परफॉर्मेंस

जबलपुर में बनेगा राजा शंकरशाह रघुनाथ शाह का स्‍मृति स्‍मारक

जबलपुर। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जबलपुर के गैरीसन ग्राउंड में आयोजित जनजातीय नायकों के गौरव समारोह का शुभारंभ किया। इस दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान, सांसद और प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा सहित अन्य मंत्री और अधिकारी उपस्थित रहे। इसके पहले उन्होंने जनजातीय नायकों के जीवन पर केंद्रित चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। मालगोदाम चौक पर वीर बलिदानी राजा शंकर शाह एवं कुंवर रघुनाथ शाह की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित कर उन्हें नमन किया। जबलपुर में जनजातीय बलिदानी राजा शंकर शाह, रघुनाथ शाह की स्मृति में 5 करोड़ की लागत से संग्रहालय बनेगा। गृह मंत्री ने मंच से किया भूमिपूजन। संग्रहालय बलिदानियों की प्रतिमा स्थली पर बनेगा।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राजा शंकर शाह की कविता को पढ़कर कहा कि इस कविता ने स्वतंत्रता संग्राम की चिंगारी भड़काने का काम किया। कांग्रेस की सरकारों ने आजादी के लिए लड़ने वाले केवल कुछ लोगों का नाम बताया। इन स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों का नाम सामने नहीं आया। अपनी मातृभूमि के लिए उन्होंने अपना सबकुछ न्यौछावर कर दिया। सीएम शिवराज ने कहा कि 15 नवंबर को हर साल जनजातीय गौरव दिवस मनाया जाएगा। 1 नवंबर से 89 आदिवासी विकासखंड में हर गांव में हर घर राशन पहुचाएंगे। जो गाड़ी राशन पहुंचाएगी वो भी आदिवासी बेटा-बेटी की होगी। उन्होंने कहा कि 26 हजार हर माह गाड़ी का किराया देंगे। आदिवासी भाई बहन को गाड़ी फाइनांस कराएंगे, जिसकी बैंक गारंटी सरकार लेगी। भाजपा ने हमेशा जनजातियों के विकास के लिए काम किया। देश मे जनजातीय मंत्रालय का गठन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेई के कार्यकाल में हुआ।

कांग्रेस ने 50 साल सिर्फ जनजातीय का उपयोग किया उनके विकास परंपरा को आगे बढ़ाने के लिए कोई काम नही किया। 1 नंबर से आदिवासी गांवों में हर घर राशन पहुचाने का काम 89 विकास खंड में किया जाएगा। कांग्रेस ने अभी तक नाटक किया। सामुदायिक वन प्रबंधन के अधिकार आदिवासियों को दिए जाएंगे। तेंदुपत्ता और वैन समिति का अधिकार आदिवासियों को दिए जाएंगे। वनोपज को भी न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा। वनोपज औषधिया को प्रोसेज कर बेचेंगे।आदिवासियों के लिए पेश एक्ट क्रमबद्ध तरीके से करेंगे। वनों का प्रबंधन का काम आदिवासी समिति यानी ग्राम सभा को सौपा जाएगा। पेश ग्राम सभाओं का गठन किया जाएगा। वर्ग संघर्ष नहीं सामाजिक समरसता होगी।

एलबम का विमोचन

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने सिंगल क्लिक के माध्‍यम से पांच करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले स्‍मृति स्‍मारक का भूमिपूजन किया। इस दौरान जननायकों पर आधारित एलबम का विमोचन किया गया। कार्यक्रम में वीडियो फिल्‍म का प्रदर्शन भी किया गया। इस दौरान केंद्रीय राज्‍यमंत्री फग्‍गन सिंह कुलस्‍ते, प्रहलाद पटेल, सांसद राकेश सिंह, प्रदेश के मंत्री नरोत्‍तम मिश्रा, बिसाहू लाल सिंह, गोपाल भार्गव, अरविंद सिंह भदौरिया आदि मौजूद रहे

कैबिनेट मंत्री विजय शाह नाराज होकर लौटे: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आगमन के पहले अमर शहीद राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह की प्रतिमा स्थल पर पुष्पांजली देने प्रदेश के कैबिनेट मंत्री कुंवर विजय शाह भी पहुंचे। लेकिन प्रोटोकाल का हवाला देते हुए उन्हें भी प्रतिमा स्थल के पास जाने की अनुमति नहीं दी गई। केंद्रीय मंत्री की सुरक्षा में लगी स्पेशल टीम ने गेट पर ही रोक दिया। सुरक्षा प्रहरी की इस सख्ती से मंत्री विजय शाह बिफर गए। उन्होंने कहा कि वे अमर शहीद राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह के वशंज हैं और उन्हें ही प्रतिमा स्थल प्रणाम करने से रोका जा रहा है। मंत्री शाह ने दूर से ही राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह को नमन किया और नाराजगी जताते हुए बैरंग लौट गए। भाजपा नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने कहा कि प्रोटाकल में उनका भी नाम था फिर भी उन्हें नही आने दिया गया

विदित हो कि केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आदिवासी जननायक वीर बलिदानी राजा शंकरशाह कुंवर रघुनाथ शाह के बलिदान दिवस के अवसर पर आयोजित विभिन्न कार्यक्रम में शामिल होंगे। वह गैरीसन ग्राउंड में जनसभा को भी संबोधित करेंगे। यहां आदिवासी नेताओं का भी संबोधन होगा। शाह जबलपुर में करीब आठ घंटे रहेंगे। यहां उनके अनेक कार्यक्रम निर्धारित हैं। इनमें नरसिंह मंदिर और दयोदय तीर्थ जाना भी शामिल है।

भाजपा नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर ने बताया शहीद स्मारक गोलबाजार में आयोजित बूथ अध्यक्ष सम्मेलन के कार्यक्रम हेतु वीआईपी हेतु पार्किंग व्यवस्था महाकोशल स्कूल में होगी इसके अलावा अन्य वाहनों की पार्किंग व्यवस्था डीएन जैन कॉलेज, अंजुमन स्कूल, एमएलबी मैदान एवं रानीताल मैदान में की गई है।

बूथ सम्मेलन में कार्यकर्ताओं से उपस्थिति की अपील लोकसभा मुख्य सचेतक सांसद राकेश सिंह, नगर अध्यक्ष जीएस ठाकुर, ग्रामीण अध्यक्ष रानू तिवारी, प्रदेश उपाध्यक्ष सुमित्रा बाल्मीकि, प्रदेश मंत्री आशीष दुबे, विधायक नंदिनी मरावी, प्रदेश कोषाध्यक्ष अखिलेश जैन, विधायक अजय विश्नोई, अशोक रोहाणी, इंदु तिवारी, पूर्व विधायक अंचल सोनकर, शरद जैन, हरेंद्रजीत सिंह बब्बू, प्रतिभा सिंह, पूर्व महापौर प्रभात साहू ने की है।

भगवा झंडा दिखाने की चेतावनी पर पुलिस ने उठाया: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आगमन पर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन एवं महंगाई के विरोध में भगवा झंडा दिखाकर प्रदर्शन करने की चेतावनी देने वाले शिवसेना कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। बेलबाग पुलिस ने बताया कि शिवसेना प्रदेश प्रवक्ता कन्हैया तिवारी एवं जिला अध्यक्ष शैलेंद्र बारी को एहतियात के तौर पर बेलबाग थाने में बैठाया गया है। गृह मंत्री के कार्यक्रम के उपरांत दोनों को छोड़ दिया जाएगा।

अपडेट्स-

– मालगोदाम स्थित शंकर शाह रघुनाथ शाह बलिदान स्थल पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम के बीच गोंडवाना संगठन के लोगों सात लोगों को न आने देने पर संगठन पदादिकारी बिफरे। चार लोगों को दी पूजन की अनुमति।

– केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के आगमन से पूर्व पुलिस के करीब साढ़े तीन हजार जवान चप्पे-चप्पे पर तैनात कर दिए गए। बीडीडीएस टीम ने थी मोर्चा संभाला। केंद्रीय मंत्री करीब 8 घंटे तक शहर में रहकर से आयोजनों में शामिल होंगे जिसके लिए 83 विशेष अधिकारियों समेत डीआइजी, एसपी, कमांडेंट, डीएसपी रैंक के तमाम अफसर तथा जिला पुलिस बल और सशस्त्र बल के जवानों को तैनात किया गया है। जिन मार्गों से केंद्रीय मंत्री का काफिला गुजारना है वहां बैरिकेडिंग कर दी गई है।

– जनजाति नायकों के शौर्य पर आधारि‍त लघु फिल्‍म दिखाई गई।

– जनजाति नायकों पर आधारित एलबम का विमोचन किया गया।

– मुख्यमंत्री ने तुलसी का पौधा देकर किया गृह मंत्री का स्वागत।

– जनजातीय नेताओं ने गृह मंत्री सहित सभी अतिथियों को पगड़ी पहनाकर तीर कमान सौंपी।

– जबलपुर में जनजातीय बलिदानी राजा शंकर शाह रघुनाथ शाह की स्मृति में पांच करोड़ की लागत से संग्रहालय बनेगा। गृह मंत्री ने मंच से किया भूमिपूजन। संग्रहालय बलिदानियों की प्रतिमा स्थली पर बनेगा।