ब्रेकिंग
When a Cheater, Always a Cheater? 6 Strategie per Acquisire Back In The Online Gioco di appuntamenti Discovering Academic Term Papers जन-जन को जोड़ें "महाकाल लोक" के लोकार्पण समारोह से : मुख्यमंत्री चौहान Women Business Idea- घर बैठे कम लागत में महिलायें शुरू कर सकती हैं यह बिज़नेस राज्यपाल उइके वर्धा विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित राष्ट्रीय संगोष्ठी में हुई शामिल, अंबेडकर उत्कृष्टता केंद्र का भी किया शुभारंभ विराट कोहली नहीं खेलेंगे अगला मुकाबला मनोरंजन कालिया बोले- करेंगे मानहानि का केस,  पूर्व मेयर राठौर  ने कहा दोनों 'झूठ दिआं पंडां कहा-बेटे का नाम आने के बावजूद टेनी ने नहीं दिया मंत्री पद से इस्तीफा करनाल में बिल बनाने की एवज में मांगे थे 15 हजार, विजिलेंस ने रंगे हाथ दबोचा

पुराने फोन पर नहीं होगा मालवेयर और हैकिंग का खतरा, Google करेगा आपकी मदद

नई दिल्ली। Google अपने नये स्मार्टफोन की सुरक्षा के लिए नये-नये सिक्योरिटी अपडेट देता रहता है। लेकिन पुराने स्मार्टफोन के लिए सिक्योरिटी अपडेट नहीं जारी किये जाते हैं, जिससे एंड्राइड बेस्ड पुराने स्मार्टफोन पर हैकिंग और मालवेयर अटैक का खतरा बना रहता है। ऐसे में एक्सपर्ट ग्राहकों को पुराने स्मार्टफोन ना करने की सलाह देते हैं। लेकिन अब Google की तरफ से पुराने स्मार्टफोन को सिक्योर बनाने की कोशिश की जा रही है। जिससे पुराने स्मार्टफोन को लंबे वक्त तक इस्तेमाल किया जा सकेगा। साथ ही पुराने एंड्राइड प्लेटफॉर्म बेस्ड स्मार्टफोन पर मालवेयर और मैलिशियल अटैक के खतरे को नाकाम किया जा सकेगा।

Google ला रहा नया प्रोटेक्शन फीचर

बता दें कि Google की तरफ से एक प्राइवेसी प्रोटेक्शन फीचर्स को पुराने एंड्राइड स्मार्टफोन में लाया जा रहा है। इसे अपकमिंग एंड्राइड 11 की रिलीज के समय जारी किया जा सकता है। Google की तरफ से ऑटो रिसेटिंग परमिशन को पेश किया गया है। Google का नया फीचर किसी भी ऐप को स्टोरेज, माइक, कैमरा और अन्य संवेदनशील जानकारियों को एक्सेस करने से रोकेगा। यह फीचर उस वक्त होगा, जब ऐप का इस्तेमाल कई माह तक नहीं किया जाएगा। एंड्राइड 11 का यह अपकमिंग फीचर ऐप के डेटा कलेक्शन को रोकने का काम करेगा।

इन स्मार्टफोन को मिलेगा अपडेट 

बता दें कि सभी एंड्राइड स्मार्टफोन जो एंड्राइड 6 और उससे ऊपर वर्जन पर काम करते हैं, उन्हें Google का अपकमिंग प्राइवेसी प्रोटेक्शन फीचर्स का अपडेट ऑटोमेटिकली मिल जाएगा। साथ ही इसे मैन्युअली भी इनेबल्ड किया जा सकेगा। Google का मानना है कि नया फीचर्स लाखों और करोड़ों एंड्राइड फोन को प्रोटेक्ट करने का काम करेगा। The Verge की रिपोर्ट के मुताबिक नये फीचर्स को इस साल दिसंबर तक रिलीज किया जा सकता है। यह उन सभी डिवाइस को प्रोटेक्ट करेगा, एंड्राइड वर्जन 6 से 10 के बीच काम करते हैं।