ब्रेकिंग
Essay Help From Licensed Authors Come affrontare Nervosismo estremo मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज गांधी जयंती के अवसर पर छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना 'महात्मा गांधी रूरल इंडस्ट्रियल पार्क योजना' के शुभारंभ महिला श्रमिक की मौत पर की खबर के बाद जागे परिवहन विभाग और ट्रैफिक पुलिस, नामली थाना क्षेत्र में की कार्रवाई AIIMS : ड्यूटी के दौरान मोबाइल फोन के इस्तेमाल पर बैन अब तक 7 के शव बरामद, आईएएफ ने 2 चीता हेलीकॉप्टर किए तैनात, 8 लोगों का सफल रेस्क्यू क्या Pavitra Punia- Ejaz Khan ने  कर ली सगाई? दशहरे के दिन ही खुलता है रावण के इस मंदिर का द्वार खुद स्टार्ट किया पम्पिंग सेट, कहा- पशुओं में दूध की होती है वृद्धि हटाए गए कर्मियों को नौकरी देने की मांग, 19-20 को करेंगे भूख हड़ताल

कनाडा: जस्टिन ट्रूडो का दबदबा कायम, सत्ता में फिर वापसी लगभग तय…लिबरल पार्टी को बढ़त

कनाडा में नई सरकार चुनने के लिए सोमवार को मतदान हुआ जिसके परिणाम सामने आने लग गए हैं। कनाडा के लोगों ने एक बार फिर जस्टिन ट्रूडो को अपने प्रधानमंत्री के रूप में चुना है। पहले चरण का मतदान होने के बाद आए परिणामों से पता चला है कि देश के मौजूदा प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो की पार्टी सत्ता में वापसी कर रहे हैं। ट्रूडो की लिबरल पार्टी और प्रतिद्वंद्वी कंजर्वेटिव पार्टी के नेता एरिन ओ’टोल के खिलाफ कांटे की टक्कर में ट्रूडो रेस में काफी आगे चल रहे हैं। ट्रूडो की लिबरल पार्टी बहुमत के साथ आगे चल रही है। इन परिणामों को देखकर लग रहा है कि ट्रूडो का एक बार फिर से कनाडा का प्रधानमंत्री बनना तय है।

मध्यावधि चुनाव करा ट्रूडो ने खेला राजनीतिक जुआ
बता दें कि प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने संसद में बहुमत हासिल करने के लिए मध्यावधि चुनाव कराने का जुआ खेला है, लेकिन इससे उनपर सत्ता से बाहर होने का खतरा मंडरा रहा था। चुनाव पूर्व सर्वे में ट्रूडो की लिबरल पार्टी और प्रतिद्वंद्वी कंजर्वेटिव पार्टी के बीच कांटे की टक्कर थी। ट्रूडो के सामने एक सेवानिवृत्त सैन्य कर्मी, पूर्व वकील और नौ साल से सांसद एरिन ओ’टूले (47) की कड़ी चुनौती थी। ट्रूडो ने 2015 में अपने पिता एवं दिवंगत प्रधानमंत्री पियरे ट्रूडो की लोकप्रियता का लाभ उठाते हुए चुनाव जीता था, लेकिन उनसे अत्यधिक अपेक्षाओं, घोटालों और वैश्विक महामारी के बीच चुनाव कराने के पिछले महीने लिए गए फैसले से उनकी छवि को नुकसान पहुंचा।

कोरोना काल में किया बेहतर काम
ट्रूडो दुनिया के अधिकतर देशों की तुलना में कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से बेहतर तरीके से निपटे। लोगों के वैक्सीनेशन के मामले में कनाडा टॉप पर है और ट्रूडो सरकार ने लॉकडाउन के बीच अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए अरबों डॉलर खर्च किए। ट्रूडो को इस सबका काफी फायदा पहुंचा है।