ब्रेकिंग
बिहार के भागलपुर का तेतरी दुर्गा मंदिर, कभी गांव के लोगों को सपना देकर आयी थीं भगवती प्रदेश में सबसे अधिक सीहोर में शतायु मतदाता, भारत निर्वाचन आयोग करेगा सम्मानित गहलोत की सीएम कुर्सी भी हिलने लगी, दो दिन में सोनिया गांधी लेंगी फैसला खेलते-खेलते नाडी में डूबकर भाई-बहन सहित तीन की मौत सुवेंदु अधिकारी ने सीतारमण को लिखा पत्र, बंगाल सरकार पर फंड डायवर्ट करने का लगाया आरोप पोस्ट को लेकर गहलोत और पायलट समर्थक भिड़े पाकिस्तानी क्रिकेटर शहजाद आजम राणा का कार्डियक अरेस्ट के कारण हुआ निधन आईसीसी ने टी20 वर्ल्ड 2022 की प्राइज मनी का किया ऐलान माँ दुर्गा जी की तीसरी शक्ति का नाम ‘चन्द्रघण्टा’ है केमिकल स्टॉक ने दिया 52 हफ्ते का बेस्ट परफॉर्मेंस

सतना के रैगांव व कोठी में सभा के साथ 11 गांवों का भ्रमण करेंगे मुख्यमंत्री

सतना। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जिले के एक दिवसीय प्रवास पर सतना पहुंच गए हैं। यहां स्थानीय कार्यक्रम एवं आमसभा सहित विभिन्न ग्रामों में जनदर्शन कार्यक्रम में शामिल होंगे जो कुछ ही देर में शुरू हो रहा है।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री खजुराहो एयरपोर्ट से हेलीकॉप्टर से रवाना होकर हेलीपैड रैगांव पहुंच गए हैं। रैगांव में आमसभा को संबोधित करने के उपरांत मुख्यमंत्री चौहान कार द्वारा रैगांव, धौरहरा, इटमा, गोपालगंज, सेमरिया, करसरा, रकसेलवा, झाली, गोरइया, बरहना, दिदौंध एवं मौहार में जनदर्शन कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री जनदर्शन करने के बाद शाम पांच बजे कोठी पहुंचेंगे और आमसभा को संबोधित करेंगे। मुख्यमंत्री शाम 5ः30 बजे हेलीपैड कोठी से हेलीकॉप्टर द्वारा खजुराहो एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे

15 दिन में दूसरी बार कार्यक्रम: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीते 12 सितंबर को ही सतना के रैगांव विधानसभा क्षेत्र के शिवराजपुर गांव में आए थे जहां व सभा के बाद रैली कर सिंहपुर पहुंचे थे। बीते 15 दिनों के अंदर मुख्यमंत्री की सतना के रैगांव विधानसभा क्षेत्र में यह दूसरा कार्यक्रम है जहां वे छह घंटे से भी अधिक का समय जनता को देंगे।

रैगांव विधानसभा का उपचुनाव: लंबे समय से रैगांव विधानसभा क्षेत्र के भाजपा से विधायक रहे प्रदेश के सबसे बुजुर्ग विधायक जुगुल किशोर बागरी का कोरोना व लंबी बीमारी के बाद बीते 10 मई को निधन हो गया था। इसके बाद से ही यह सीट खाली है। जहां विधानसभा उपचुनाव होना है लेकिन अब तक इसकी घोषणा नहीं हुई है। इसे लेकर अब सभी राजनीतिक दल क्षेत्र के लोगों को अपने-अपने तरीके से अपने पक्ष में करने में अभी से जुट गए हैं। सत्ताधारी और विपक्षी पार्टियां भी सभाएं और बैठकें कर पुरजोर तैयारियों में जुटी हुई है। मुख्यमंत्री द्वारा 15 दिन के अंदर दूसरी बार इस क्षेत्र में सभा, रैली व घोषणाओं को भी इसी तैयारी से जोड़कर देखा जा रहा है।