ब्रेकिंग
जेल में आजीवन कारावास की सजा काट रहे 63 कैदी रिहा भारतीय वायुसेना में शामिल हुए हल्के लड़ाकू हेलीकॉप्टर 'प्रचंड' छत्तीसगढ़: कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल नशे का इंजेक्शन लगाकर गिरते-गिरते अपने मोटरसाइकिल तक पहुंचा युवक, सीधा खड़ा भी नहीं हो पाया पोहा बनाने का व्यापार कैसे शुरू करें या पोहा मिल कैसे लगाये |Poha Making Business In Hindi कुम्हारी हत्याकांड पर सियासी बवाल युवती को पता चलने पर धमकाया, हिंदूवादी संगठन ने युवक की पिटाई की दुर्गोत्सवऔर दशहरा उत्सव मनाने ट्रैफिक पुलिस ने बनाया प्लान, शाम 5 बजे से रात दो बजे तक रूट रहेगा डायवर्ट महिलाओं ने की 18 किलोमीटर पैदल यात्रा, मां जालपा को ओढाई 72 मीटर लंबी चुनरी MP की सबसे लंबी मोहनिया सुरंग बनकर तैयार, जाने क्या है, खासियत

लखीमपुर हादसे पर राहुल-प्रियंका ने सरकार पर साधा निशाना, कहा- बेकार नहीं जाएगा बलिदान

यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई घटना को लेकर सियायत भी तेज हो गई है। विपक्षी दल उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमलावर हो गए हैं। इस हादसे को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बीजेपी की सरकार पर हमला बोला है। राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि, जो इस अमानवीय नरसंहार को देखकर भी चुप है, वो पहले ही मर चुका है। लेकिन हम इस बलिदान को बेकार नहीं होने देंगे- किसान सत्याग्रह ज़िंदाबाद!

PunjabKesari

वहीं, इस घटना को लेकर  प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट कर लिखा कि, ‘ भाजपा देश के किसानों से कितनी नफ़रत करती है? उन्हें जीने का हक नहीं है? यदि वे आवाज उठाएँगे तो उन्हें गोली मार दोगे, गाड़ी चढ़ाकर रौंद दोगे? बहुत हो चुका। ये किसानों का देश है, भाजपा की क्रूर विचारधारा की जागीर नहीं है। किसान सत्याग्रह मजबूत होगा और किसान की आवाज और बुलंद होगी।

लखीमपुर खीरी में क्या हुआ?
उत्तर प्रदेश में लखीमपुर खीरी के तिकुनिया क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कार्यकर्ताओं और किसानो के बीच हुई झड़प में तीन किसान हताहत हो गये जबकि दो वाहनो को आग लगा दी गयी। सूत्रों ने बताया कि रविवार को बनवीरपुर में उप मुख्यमंत्री केशव प्रयाद मौर्य को एक कार्यक्रम में आना था जबकि किसान अपनी मांगों के समर्थन में काले झंडे दिखाने के लिये खड़े थे। भाजपा कार्यकर्ताओं ने आंदोलनरत किसानों को हटाने का प्रयास किया जिसे लेकर दोनो पक्षों में बवाल शुरू हो गया। इस बीच भाजपा कार्यकर्ताओं ने किसानो की भीड़ को कार से रौंदने की कोशिश की। इस घटना में तीन किसानों की मौत की खबरें आ रही हैं।

उन्होने बताया कि घटना में घायल दो किसानो के मारे जाने की सूचना है लेकिन इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की जा सकी है। उधर किसानो ने दो वाहनो को आग लगा दी। आरोप है कि किसानो को रौदने का प्रयास करने वालों में स्थानीय सांसद और गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी का पुत्र आशीष उर्फ मोनू भी शामिल है। घटना के बाद क्षेत्र में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है। घटनास्थल पर चेतावनी के बावजूद बड़ी तादाद में किसान डटे हुये हैं। मौके पर पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी मौजूद है।