ब्रेकिंग
सतगुरू कबीर संत समागम समारोह दामाखेड़ा पहुंच कर विधायक इन्द्र साव ने लिया आशीर्वाद विधायक इन्द्र साव ने विधायक मद से लाखों के सी.सी. रोड निर्माण कार्य का किया भूमिपूजन भाटापारा में बड़ी कार्यवाही 16 बदमाशों को गिरफ़्तार किया गया है, जिसमें से 04 स्थायी वारंटी, 03 गिरफ़्तारी वारंट के साथ अवैध रूप से शराब बिक्री करने व... अवैध शराब बिक्री को लेकर विधायक ने किया नेशनल हाईवे में चक्काजाम अधिकारीयो के आश्वासन पर चक्का जाम स्थगित करीबन 1 घंटा नेशनल हाईवे रहा बाधित। भाटापारा। अवैध शराब बिक्री की जड़े बहुत मजबूत ,माह भर के भीतर विधायक को दोबारा बैठना पड़ा धरने पर , विधानसभा सत्र छोड़ अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं ... श्रीराम जन्मभूमि में नवनिर्मित भव्य मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के अवसर पर भाटापारा भी रामभक्ति की लहर पर जमकर झुमा शहर में दीपमाला, भजन, आतिशबाजी, भंडा... मर्यादा पुरुषोत्तम प्रभु श्री राम मंदिर अयोध्या की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के उपलक्ष में भाटापारा में भी तीन दिवसीय आयोजन, बाइक रैली, 24 घंटे का रामनाम... छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की करारी हार के बाद प्रभारी शैलजा कुमारी की छुट्टी राजस्थान के सचिन पायलट होंगे छत्तीसगढ़ के नए प्रभारी साय मंत्रिमंडल में कल ,ये 9 विधायक लेंगे मंत्री पद की शपथ साय मंत्रिमंडल का कल होगा विस्तार 9 मंत्री लेंगे शपथ बलौदा बाजार को भी मिलेगा पहली बार मंत्री पद

ग्वालियर में पुलिस आरक्षक ने व्हाट्सएप ग्रुप में भाजपा के लिए लिखे अपशब्द, तुरंत कर दिया सस्पेंड

ग्वालियर: ग्वालियर के एक वाट्सएप ग्रुप में पुलिस आरक्षक को अश्लील भाषा का इस्तेमाल करना महंगा पड़ गया. जिसके बाद आरक्षक सस्पेंड तो हुआ ही साथ ही उसपर विभागीय जांच भी शुरू हो गई है. अश्लील शब्द के प्रयोग के बाद हेड कांस्टेबल को ग्रुप से रिमूव भी कर दिया है|

दरअसल ग्वालियर में पदस्थ पुलिसकर्मी धर्मेंद्र पाठक ने एक व्हाट्सएप ग्रुप में भारतीय जनता पार्टी को लेकर अभद्र टिप्पणी(गाली) लिख दी. जिसके बाद ग्रुप के सदस्यों ने टिप्पणी पर आपत्ति ली. खास बात ये है कि अभद्र कमेंट जिस व्हाट्सएप ग्रुप में किया गया उस ग्रुप में खुद एसपी अमित सांघी भी जुड़े हुए हैं जब एसपी की नजर आरक्षक के अभद्र कमेंट पर पड़ी तो एसपी ने तत्काल आरक्षक के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई कर शुरू करते हुए विभागीय जांच बिठा दी. आपको बता दें कि ग्रुप में कोरोना को लेकर एक न्यूज की क्लिप डाली गई थी. जिस पर आरक्षक ने अपशब्द लिखे, और फिर उसके बाद ये भी लिखा कि ” अब कोरोना आ गए तो चुनाव कहा चला गया |

एसपी अमित सांघी का कहना हैं कि इस तरह की हरकतों से पुलिस की छवि खराब होती है. जो कि कतई बर्दाश्त करने योग्य नहीं है. आरक्षक धर्मेंद्र पाठक ने जिस ग्रुप में अपशब्द लिखे हैं उसमें कई सामाजिक और वरिष्ठ लोग जुड़े हुए हैं|