ब्रेकिंग
एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक घर में रखा फ्रिज सिर्फ उपकरण नहीं, है वास्तु शास्त्र की रहस्मयी व्याकरण... इस दिशा में रखने से चमक जाता है भाग्य पंचायत के प्रथम चरण के चुनावों के बाद EVM का हुआ रेंडमाइजेशन  जी-7 समिट में हिस्सा लेने जर्मनी पहुंचे पीएम मोदी, प्रवासी भारतीयों ने गर्मजोशी से किया स्वागत

बदमाश ने नाबालिग के हाथ, पैर और पीठ पर किया ताबड़तोड़ वार, उपचार के दौरान मौत

रायपुर।  राजधानी रायपुर में चाकूबाजी की घटनाएं लगातार सामने आ रही है। इससे अपराध का ग्राफ बढ़ रहा है। एक ताजा मामले में गुढ़ियारी इलाके में बदमाश युवक ने एक नाबालिग पर चाकू से हमला किया है। इस हमले में नाबालिग गंभीर रूप से घायल हो गया, जिसे अस्पातल ले जाया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

बताया गया कि आरोपितों ने नाबालिग के हाथ,पैर,पीठ और जांघ पर हमला किया है। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार मामला गुढ़ियारी थाना क्षेत्र का है, जहां रामनगर में बदमाश युवक ने एक नाबालिग पर चाकू से हमला कर दिया।

हमले से घायल नाबालिग को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया था, जहां उपचार के दौरन मौत हो गई। बताया गया कि आरोपित युवक ने पुरानी रंजिश के चलते इस घटना को अंजाम दिया है। रविवार को भी राजातालाब इलाके में चाकूबाजी की घटना सामने आई थी, जहां दो आरोपितो ने एक युवक को चाकू मार दिया था। घायल युवक का अस्पताल में उपचार जारी है।

इधर, प्रदेश में बढ़ते अपराध पर नियंत्रण पाने में फेल रहने वाले पुलिस अधीक्षकों को डीजीपी डीएम अवस्थी ने जमकर फटकार लगाई। डीजीपी ने दो टूक कहा कि जिलों में अपराध पर लगाम लगाएं। प्रिवेंटिंग पुलिसिंग से अपराधों में कमी आएगी। अपराधिक घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस अधीक्षक स्वयं ऐसे पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाएं, जिनका सूचना तंत्र मजबूत हो।

पुलिस मुख्यालय में सोमवार को डीजीपी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए अपराधों की समीक्षा की। डीजीपी ने कहा कि पुलिस अधिकारी ग्रामीण इलाकों में अपराधों की रोकथाम के लिए गांवों में चौपाल लगाएं। शहरी क्षेत्रों में नागरिकों के साथ संवाद स्थापित करें, जिससे सूचना तंत्र मजबूत हो सके। अपराधों की रोकथाम के लिए नाकाबंदी और वाहनों का औचक निरीक्षण होना चाहिए।