Jain
ब्रेकिंग
महू में दो गुटों में विवाद के बाद बम फोड़ा; 2 की मौत, 15 से ज्यादा घायल रोटी भी बदल सकती है किस्मत डीजीपी का सिल्वर मेडल भी आज लखनऊ में देंगे एडीजी जोन,खुशी की लहर देर शाम आई सभी के पास प्रशासन फोन कॉल, 30 स्वतंत्रता सेनानियों के आश्रितों किया गया था आमंत्रित आजादी के अमृत महोत्सव के लिए रंग बिरंगी रोशनियों से सजा ग्वालियर दुगरी फेस-1 में हुआ हमला,अदालत में गवाही न देने के लिए हमलावर बना रहे थे दबाव भाजयुमो के मंत्री ने कार के सन रूफ से निकलकर झंडे की फोटो की थी पोस्ट 100 फूट ऊंचा लहरा रहा तिरंगा,लाइटों से जगमगाया शहर, दुल्हन की तरह सजी सड़कें रैली निकालकर लगाए भारत माता की जयकारे, बच्चों और ग्रामीणों ने किया समरसता भोज राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने किया ध्वजारोहण

पथरिया विधायक रामबाई के पति को गिरफ्तार करने घर पहुंची पुलिस, मकान की नपती

दमोह। हटा निवासी कांग्रेसी नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड के आरोपित पथरिया विधायक रामबाई सिंह परिहार के पति गोविंद सिंह परिहार को गिरफ्तार करने के प्रयास के तहत भारी मात्रा में पुलिस बल विधायक राम बाई के घर पहुंचा। सागर नाका के समीप मौजूद विधायक रामबाई के घर पर बड़ी मात्रा में पुलिस बल मौजूद है।

दमोह तहसीलदार डॉक्टर बबीता राठौर और राजस्व अमला भी विधायक रामबाई के घर पहुंचा है। अमला जेसीबी भी लेकर आया है। संभावना है कि अवैध निर्माण को तोड़ा जाएगा, इसलिए बबीता राठौर राजस्व के नक्शे का अवलोकन कर रही है

पथरिया विधायक रामबाई सिंह परिहार के पति गोविंद सिंह की गिरफ्तारी के लिए दमोह एसपी हेमंत चौहान ने 5 टीमों का गठन किया है। इसके अलावा एसटीएफ एडीजी विपिन महेश्वरी भोपाल से दमोह पहुंचे हैं। उनके साथ भी टीम पहुंची है जो गोविंद सिंह की गिरफ्तारी के प्रयास कर रही हैं।

ज्ञात हो कि करीब डेढ़ साल पहले हटा निवासी कांग्रेसी नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड में विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह और करीब 22 लोग आरोपित बनाए गए थे, जिसमें से पुनः विवेचना के बाद रामबाई के पति गोविंद सिंह का नाम एफआइआर से हटा दिया गया था। बाद में हटा न्यायालय में पीठासीन अधिकारी ने गोविंद सिंह को भी आरोपित बनाते हुए उन्हें कोर्ट में पेश होने के लिए आदेशित किया था। इसके बाद से ही गोविंद सिंह फरार हैं।

इसी मामले को पीड़ित परिवार ने सुप्रीम कोर्ट में भी अपनी याचिका दायर कर शिकायत दर्ज कराई थी कि दमोह पुलिस आरोपित गोविंद सिंह को गिरफ्तार नहीं कर रही है। जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने एक आदेश जारी किया था कि तत्काल आरोपित को गिरफ्तार किया जाए। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पुलिस विभाग में खलबली शुरू हुई और अब गोविंद सिंह की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।