ब्रेकिंग
जिला पंचायत सदस्य पद के लिए दोबारा डाले जा रहे वोट, अब तक 60% वोटिंग लंबे समय बाद स्टेज पर दिखे शाहरुख खान कुछ सरल वास्तु उपाय जो घर मे लाएंगे बरक्कत डोमेस्टिक का चार्ज लगेगा, बिजली बिलों में 2 रुपए प्रति यूनिट का मिलेगा फायदा एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड

लखनऊ शताब्दी की जेनरेटर कार में लगी आग, 1 घंटा 35 मिनट की देरी से रवाना हुई ट्रेन

नई दिल्ली/गाजियाबाद।दिल्ली से चलकर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ जाने वाली लखनऊ शताब्दी के यात्रियों में शनिवार सुबह उस समय हड़कंप मच गया, जब ट्रेन की जेनरेटर कार में आग लग गई। इसके चलते ट्रेन गाजियाबाद स्टेशन से 1 घंटा 35 मिनट की देरी से रवाना हुई, क्योंकि आग पर काबू पाने में काफी समय लग गया। मिली जानकारी के मुताबिक, शनिवार सुबह बजकर 45 मिनट पर लखनऊ शताब्दी ट्रेन की जेनरेटर कार में आग लग गई। हादसे के एक घंटे बाद पहुंचे दमकलकर्मियों ने ट्रेन से जेनरेटर कार को अलग किया गया। आग पर पूरी तरह से काबू पाने के बाद ही ट्रेन को लखनऊ के लिए रवाना किया।

 सुनील कुमार सिंह (मुख्य अग्निशमन अधिकारी, गाजियाबाद) का इस पूरे हादसे पर कहना है कि शनिवार सुबह सात बजे सूचना मिली कि शताब्दी एक्सप्रेस में आग लगी है। तत्काल 6 गाड़िया भेजी गईं। देखा गया कि आग ट्रेन के सबसे पिछले बोगी जनरेटर व लगेज यान में लगी थी तत्काल बोगी को ट्रेन के अन्य हिस्से से अलगकर आग बुझाने की कार्रवाई प्रारम्भ की गई। आग से दोनों दरवाजे खुले नहीं रहे थे। उन्हें तोड़कर आग को पूर्ण रूप से बुझा दिया गया। कोई जनहानि नहीं हुई है।

वहीं, इससे पहले नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से चलने वाली लखनऊ मेल में बृहस्पतिवार देर रात विस्फोट की धमकी के चलते गाजियाबाद में हड़कंप मच गया। बताया गया कि यूपी-112 पर मिली बम की धमकी की सूचना दिल्ली कंट्रोल रूम को दी गई थी, लेकिन तब तक ट्रेन दिल्ली से चल चुकी थी। इसके बाद आनन-फानन में लखनऊ मेल ट्रेन को गाजियाबाद जंक्शन पर रोककर सघन तलाशी ली गई। आरपीएफ, जीआरपी और गाजियाबाद पुलिस ने लखनऊ मेल के हर कोच का कोना-कोना छाना। एक घंटे बाद कुछ नहीं मिलने की पुष्टि होने पर अधिकारियों ने राहत की सांस ली और ट्रेन को रवाना किया।