बीजेपी पर बरसे सज्जन वर्मा, बोले- हमारे संपर्क में भी BJP विधायक थे लेकिन हमनें लोकतंत्र की हत्या नहीं की

इंदौर: पूर्व मंत्री और विधायक सज्जन सिंह वर्मा ने भाजपा पर हमला बोला है। उन्होंने कहा है कि ‘आज ही के दिन मध्य प्रदेश में कांग्रेस की 15 माह की सरकार को बीजेपी द्वारा विधायक खरीद-फरोख्त कर गिरा कर लोकतंत्र की हत्या की गई थी। जिसको लेकर आज कांग्रेस कार्यालय में तिरंगा लोकतंत्र सम्मान दिवस के रूप में कांग्रेस कार्यालय पर तिरंगा फहराया और महात्मा गांधी के प्रतिमा पर माल्यार्पण कर बीजेपी को सद्बुद्धि देने की कामना की। इस दौरान कांग्रेस के कई नेता और पूर्व मंत्री विधायक मौजूद रहे।

सज्जन सिंह ने कहा कि एक साल पूर्व कांग्रेस की चलती हुई सरकार को बीजेपी द्वारा विधायकों की खरीद-फरोख्त के चलते की गई। लोकतंत्र की हत्या के विरोध स्वरूप आज कांग्रेसियों द्वारा इंदौर के कांग्रेस कार्यालय पर तिरंगा झंडा लेकर लोकतंत्र सम्मान दिवस मनाया गया। इस दौरान कांग्रेस के पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने बीजेपी पर जमकर निशाना साधते हुए। कई मुद्दों पर अपनी बेकाक राय रखी उन्होंने कहा कि आज ही के दिन कांग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इस्तीफा दिया था। जबकि भाजपा ने मध्यप्रदेश की धरा पर लोकतंत्र की हत्या की। विधायक सांसद बिक सकता है, इसकी कभी किसी ने कल्पना नहीं की थी। लेकिन शिवराज सिंह चौहान एंड कंपनी ने विधायकों की खरीद फरोख्त करके चलती हुई कांग्रेस की सरकार को गिरा दिया था। मध्य प्रदेश की जनता ने इसे लोकतंत्र की हत्या माना। पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने कहां की कांग्रेस के संपर्क में भी बीजेपी के 35 से 40 विधायक संपर्क में थे, और आज भी संपर्क में है। लेकिन कमलनाथ ने कहा कि जो कृत्य बीजेपी ने किया है वह कृत्य हम नहीं करेंगे। क्योंकि 2023 में मध्य प्रदेश की जनता उन्हें सबक सिखाएगी। वहीं प्रदेश में कई जा रही भू माफियाओं पर कार्रवाई को लेकर सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि कोई भी माफिया चाहे किसी भी दल का हो, यदि जनता को उसके कारण परेशानी हो रही है। तो ऐसे भू माफियाओं पर कार्यवाही जरूर की जानी चाहिए। क्योंकि भू माफिया किसी भी दल से संबंधित नहीं होता है। यह केवल लाभ कमाने वाले लोग होते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि ये जिसकी सत्ता होती है। उसके साथ चिपक जाते हैं, हालांकि सज्जन वर्मा ने मध्यप्रदेश में की जा रही भूमाफिया की कार्रवाई को लेकर कहा कि बीजेपी द्वारा यह द्वेष पूर्ण भावना के चलते कार्रवाई की जा रही है।

सिंधिया पर भी साधा निशाना … 
ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर भी सज्जन वर्मा ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया आध्यात्मिक गुरु हो गए हैं, आपको बता दें इसके पहले शिक्षक आंदोलन के समय कुछ शिक्षकों द्वारा ज्योतिराज सिंधिया का काफिला रोका गया था। जिसके बाद सिंधिया ने शिक्षकों से वादा किया था कि उनके लिए सड़क पर उतरेंगे। लेकिन आज भी शिक्षक सड़क पर घूम रहा है। और सिंधिया जी मस्ती में गाड़ी में घूम रहे हैं, इस दौरान पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा पत्रकारों से कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया की पूछ परख भाजपा में नहीं है। करीब 1 साल हो गए हैं। केंद्रीय मंत्री बनने के नाम पर प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री तक मिलने जा रहे हैं। 1 साल में सिंधिया जी बीजेपी में केवल फुटबॉल बनकर रह गए हैं।

देश की सबसे बड़ी झूटी पार्टी है बीजेपी …  
बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने कहा कि बीजेपी पूरे विश्व में सबसे बड़ी पाखंडी पार्टी है। देश में महंगाई रूद्र रूप ले चुकी है, और महंगाई का आलम यह है, कि शहर के लोग अब परेशान होने लगे हैं। पूर्व मंत्री ने कहा कि बीजेपी यह जानती है कि अभी चुनाव करा दिए जाते हैं। तो उन्हें इस महंगाई का भुगतान चुनाव हार कर करना पड़ सकता है। सज्जन वर्मा ने कहां की बीजेपी सरकार के पास कौन सी संस्था नहीं है। जो उनके जेब में न हो। सीबीआई सीबीसी इनकम टैक्स और न्यायपालिका को बीजेपी सरकार अपने जेब में लिए हुए हैं। आपको बता दें अभी सीएजी चीफ अकाउंटेंट डेंडल ऑफ इंडिया द्वारा बीजेपी सरकार को डाटा भेजा था। जिसमें करीब साढ़े 14 हजार करोड़ रुपए मध्य प्रदेश सरकार ने मिसलेनियस किए हैं। करीब 10 माह के कार्यकाल में शिवराज सिंह सरकार द्वारा 12 बार वित्तीय संस्थाओं द्वारा कर्जा लिया गया है। यह पैसा कहां जा रहा है किसी को नहीं पता लेकिन जनता सब जानती है। समझती है वहीं बीजेपी के महंगाई का दावा ना ले इसके लिए चुनाव की तारीख को  आगे बढ़ा रही है। बीजेपी का मकसद केवल येन केन प्रकारेण न्यायपालिका का सहारा लेकर चुनाव को आगे बढ़ा रही है।