राजीव गांधी न्याय योजना की चौथी किश्त जारी, बघेल बोले- हम जो वादा करते हैं उसे पूरा करते हैं

रायपुर। छत्तीसगढ़ के करीब 19 लाख किसानों के बैंक खातों में राजीव गांधी न्याय योजना की चौथी किश्त के 1104 करोड़ रुपये की राशि ऑनलाइन जमा करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि हम जो वादा करते हैं उसे पूरा करते हैं। इस दौरान राहुल गांधी वर्चुअल रूप से कार्यक्रम में उपस्थित थे। कार्यक्रम के दौरान गोधन न्याय योजना के तहत गोबर विक्रेताओं को करीब साढ़े सात करोड़ रुपये दिया गया। वहीं, एक लाख 81 हजार सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतनमान के एरियर की तीसरी किस्तर की राशि 360 करोड़ रुपये का भी वितरण किया गया

मुख्यमंत्री के निवास कार्यालय से वर्चुअल आयोजित इस कार्यक्रम में मुख्यनमंत्री बघेल राजीव गांधी न्याय योजना के माध्यम से सरकार ने चार किश्तों में किसानों को कुल 5,688 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री और व्यक्तिगत रुप से भी मुझे संतोष है कि किसानों से जो हमने वादा किया था उसे पूरा किया है।

हम वादा करके भूलने वालों में से नहीं है, यह बात हमने छत्तीसगढ़ में साबित कर दी है। गोधन न्याय योजना को लेकर बघेल ने कहा कि इस योजना की पूरे देशभर में तारीफ हो रही है। लोकसभा की स्थायी समिति ने इसे पूरे देश में लागू करने की सिफारिश की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज जब देशभर में किसान संकट से घिरे हुए हैं तब छत्तीसगढ़ से उनहें एक उम्मीद और आशा की किरण दिख रही है। कार्यक्रम में प्रदेश कैबिनेट के सभी मंत्री और आला अधिकारी मौजूद थे।

इस वर्ष के बजट भी राशि का प्रावधान मुख्यमंत्री बघेल ने बताया कि राजीव गांधी न्याय योजना के तहत इस वर्ष भी बजट में 5700 करोड़ रुपये से अधिक की राशि का प्रवधान किया गया है। साथ ही इसके लिए एक मंत्रिमंडलीय उपसमिति का भी गठन किया गया है, जो राशि वितरण के संबंध में सरकार को सिफारिश करेगी।

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मिली मजबूती

कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी का वीडियो संदेश भी प्रसारित किया गया। अपने संदेश में राहुल ने प्रदेश सरकार की तारीफ करते हुए कहा कि हमारी सरकार ने किसानों की मदद की है, इससे ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत मिली है। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी ने छत्तीसगढ़ के किसानों से जो वादा किया था, उसे पूरा कर दिया है। केंद्र कृषि कानून, जीएसटी और नोटबंदी को लेकर उन्होंने केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

ये माननीय लोग थे मौजूद

मुख्यमंत्री निवास कार्यालय में आयोजित इस कार्यक्रम में गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडि़या, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रुद्रकुमार, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, और उच्च शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, संसदीय सचिव शिशुपाल सोरी और शकुन्तला साहू, राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष राम गोपाल अग्रवाल और अपेक्स बैंक के अध्यक्ष बैजनाथ चंद्राकर, अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. एम. गीता, मुख्यमंत्री के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी उपस्थित थे। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री टीएस सिंहदेव, खाद्य मंत्री अमरजीत भगत और राज्य सभा सांसद पीएल पुनिया कार्यक्रम से वर्चुअल जुड़े।