देश में कोरोना की दूसरी लहर के खौफ के बीच टीकाकरण जारी, अब तक 4.72 करोड़ लोगों को लगा टीका

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान में अब तक लाभार्थियों को वैक्सीन की 4.72 करोड़ से अधिक खुराकें दी जा चुकी हैं। सोमवार को 19.65 लाख खुराकें दी गईं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी। मंत्रालय ने बताया कि सोमवार शाम सात बजे तक मिली अस्थायी रिपोर्ट के मुताबिक लाभार्थियों को वैक्सीन की कुल 4.72 करोड़ खुराकें दी जा चुकी हैं। इनमें 78.30 लाख स्वास्थ्यकर्मी (पहली खुराक), 49.30 लाख स्वास्थ्यकर्मी (दूसरी खुराक), 81.72 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स (पहली खुराक) और 27.93 लाख फ्रंटलाइन वर्कर्स (दूसरी खुराक) शामिल हैं।इनके अलावा लाभार्थियों में 1.94 करोड़ 60 साल से अधिक उम्र के और 40.72 लाख 45-60 साल आयु वर्ग के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोग भी शामिल हैं, जिन्हें अब तक पहली खुराक दी गई है।

मंत्रालय ने बताया कि सोमवार को शाम सात बजे तक 19.65 लाख डोज दी गई। इनमें 17.55 लाख लाभार्थियों को दी गई पहली डोज और 2.10 लाख स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को दी गई दूसरी खुराकें शामिल हैं। पहली डोज लेने वालों में 13.07 लाख 60 साल से ज्यादा उम्र के और 45-60 साल आयु वर्ग के और गंभीर रोगों से ग्रस्त 3.34 लाख व्यक्ति शामिल हैं। मंत्रालय ने बताया कि देर रात तक अंतिम रिपोर्ट तैयार होगी, तब आंकड़ों में अंतर आ सकता है।

गौरतलब है कि देश में कोरोना रोधी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू हुआ था। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जा रहा था। उसके बाद दो फरवरी से फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाने का काम शुरू हुआ। फिर एक मार्च से 60 साल से अधिक और 45-60 साल के बीच के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों का टीकाकरण शुरू किया गया था।

6 राज्यों ने प्रतिदिन एक लाख टीकाकरण का रखा लक्ष्य

छह राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश ने प्रतिदिन एक लाख टीकाकरण का लक्ष्य तय किया है। इनमें हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ शामिल हैं। इन राज्यों में अभी रोजाना 40 हजार से कम टीका लगाया जा रहा है। टीकाकरण में तेजी लाने के लिए इन राज्यों की तरफ से कई कदम उठाए जा रहे हैं। इनमें हफ्ते में एक दिन बड़े स्तर पर टीकाकरण अभियान चलाना, टीका केंद्रों पर समय बढ़ाना और नए टीका केंद्र खोलना शामिल है।