ब्रेकिंग
डोमेस्टिक का चार्ज लगेगा, बिजली बिलों में 2 रुपए प्रति यूनिट का मिलेगा फायदा एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक घर में रखा फ्रिज सिर्फ उपकरण नहीं, है वास्तु शास्त्र की रहस्मयी व्याकरण... इस दिशा में रखने से चमक जाता है भाग्य पंचायत के प्रथम चरण के चुनावों के बाद EVM का हुआ रेंडमाइजेशन

कलेक्टर ने कहा-कोरोना से बचाव के लिए अधिक से अधिक लोग लगवाएं वैक्सीन, लापरवाही पड़ेगी भारी

इंदौर। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने जागरूकता अभियान चला रखा है। इसी सिलसिले में कलेक्टर मनीषसिंह ने जनता से अपील की है कि कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जागरूकता का परिचय देते हुए एकजुट प्रयास करें। कोरोना से रोकथाम के लिए मास्क पहनना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन से ही सुरक्षा हो सकती है, इसलिए अधिक से अधिक लोग वैक्सीन लगवाएं।

बहरहाल बढ़ते संक्रमण के बावजूद जो दुकानदार लापरवाही बरत रहे हैं, उनके खिलाफ प्रशासन और नगर निगम सख्त रवैया अपनाने जा रहा है। शहर के विभिन्ना बाजारों में जो दुकानदार और उनके कर्मचारी मास्क और शारीरिक दूरी का पालन करते हुए कारोबार नहीं करेंगे, उनकी दुकानें सील करने के बाद तभी खोली जाएंगी, जब शहर में कोरोना का संक्रमण कम हो जाएगा। इस मामले में कलेक्टर का कहना है कि शुरुआती दौर में कोविड प्रोटोकाल का उल्लंघन करने वाले 30 दुकानदारों की दुकानें सील करने के बाद खोल दी थी लेकिन अब जो दुकानें सील हो रही हैं उनको तब तक नहीं खोला जाएगा, जब तक कि कोरोना कम नहीं हो जाता। कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है।

हो सकता है आने वाले दिनों में एक दिन में 500-600 तक भी पाजिटिव केस आ सकते हैं, इसलिए वैक्सीन से ही सुरक्षा हो सकती है। लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए खुद आगे आना चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि रोको-टोको अभियान में हम बाजारों में घूमकर लोगों को जागरूक कर रहे हैं। कई लोग मास्क लगा रहे हैं, लेकिन कुछ लापरवाही कर रहे हैं। इंदौर जागरूकता में सदैव अव्वल रहा है और हम सभी मिलकर आगे भी एक सफल उदाहरण प्रस्तुत करेंगे।