ब्रेकिंग
आर्थिक आधार से गरीब लोगों के आरक्षण में कटौती के विरोध में आज भाटापारा अनुविभागीय अधिकारी के कार्यालय जाकर राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौंपा गया विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा सत्तापक्ष पर जमकर बरसे विधायक शिवरतन शर्मा, आरक्षण रुकवाने जो लोग कोर्ट गए उन्हें मुख्यमंत्री जी पुरस्कृत करते हैं,सत्र ... रायपुर विधानसभा विशेष सत्र। विधानसभा में आरक्षण बिल के दौरान ब्राह्मण नेताओं पर जमकर बरसे बलौदाबाजार विधायक प्रमोद शर्मा, उनके मुंह पर करारा तमाचा मार... अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद भाटापारा नगर इकाई की हुई घोषणा मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने मंडी समिति के नए सदस्य को दिलाई शपथ, उद्बोधन में कहा भारसाधक पदाधिकारीयो की नियुक्ति के बाद से मंडी लगातार चहुमुखी विकास क... मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने धान ख़रीदी केंद्रो का निरीछन कर, धान बेचने आये किसानो से मुलाक़ात कर, धान बेचने में आने वाली समस्या की जानकारी ली, किसानों... ग्राम मर्राकोना में नवीन धान उपार्जन केंद्र के शुभारंभ अवसर पर मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने कहा भूपेश सरकार किसानों की सरकार है ग्राम मर्राक़ोंना में नवीन धान उपार्जन केंद्र को मिली हरी झंडी मंडी अध्यक्ष सुशील शर्मा ने दी जानकारी ट्रक चोरी करने वाले 06 आरोपियो को किया गया गिरफ्तार, मंडी के पास लिंक रोड के किनारे खड़ी ट्रक को किया था चोरी, उड़ीसा से हुई बरामद रायपुर में शिवमहापुराण कथा:पंडित प्रदीप मिश्रा का प्रवचन सुनने लाखों लोग पहुंचे , अनुमान से अधिक लोगों के पहुंचने के कारण पंडित जी को कहना पड़ा घर में...

चारा घोटाला: लोक अभियोजक ने अदालत में कहा, गवाह ने लालू यादव को रुपयों से भरे थैले के साथ देखा

रांची। लालू प्रसाद यादव के चारा घोटाला के डोरंडा कोषागार से जुड़े 139:5 करोड़ रुपये के अवैध निकासी के मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से गवाही चल रही है। मंगलवार को सीबीआइ के विशेष जज एसके शशि की अदालत को विशेष लोक अभियोजक बीएमपी सिंह ने घोटाले के संबंध में कई रोचक जानकारियां दी हैं। सीबीआइ के गवाह आरके दास द्वारा पूर्व में दी गई गवाही का उल्लेख करते हुए कहा कि घोटाले के किंगपिन पशुपालन विभाग के तत्कालीन रीजनल डायरेक्टर श्याम बिहारी सिंह ने एक दिन उन्हें अपने आवास पर बुलाया था।

वे सुबह के समय उनके आवास गए तो बाहर के कमरे में बैठने के लिए बोल गया। कुछ देर बाद लालू प्रसाद यादव और आरके राणा श्याम बिहारी सिंह के बेडरूम से बाहर निकले। उस समय दोनों के हाथ में रुपये से भरा थैला था। जैसे ही लालू प्रसाद की नजर मुझ पर पड़ी, उनके हाथ से रुपये का थैला गिर गया। थैला फटने से रुपया इधर-उधर बिखर गया। हड़बड़ाहट में आरके राणा ने रुपया समेटा और दोनों वापस निकल गए। बीएमपी सिंह ने अदालत में जोर देकर कहा कि जो भी घोटाला हुआ, वह सत्ता के संरक्षण में हो रहा था।

उन्होंने घोटाले में सत्ता और अफसरशाही के गठजोड़ की भूमिका से अदालत को अवगत कराया। चारा घोटाला आरसी47/96 में अभी बहस और चलेगी। अदालत ने बहस के लिए 26 मार्च की तिथि निर्धारित की है। बता दें कि अब तक के सबसे बड़े चारा घोटाले में पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव, आरके राणा, श्याम बिहारी सिंह सहित 110 नेता व अफसरों पर तलवार लटकी है। बहस पूरी होने के बाद अदालत अपना फैसला सुनाएगी।