ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

बिजली वितरण कंपनी बिलासपुर में चार जगहों पर शिविर लगाकर सुनेंगे समस्या, आसानी से मिलेगा नया कनेक्शन

बिलासपुर। बिजली वितरण कंपनी अब शिविर लगाकर उपभोक्ताओं की समस्याएं सुनेगी। इस दौरान नए कनेक्शन भी दिए जाएंगे। इससे एक फायदा यह होगा कि उपभोक्ताओं को बेवजह कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। मौके पर ही समस्याओं का निवारण किया जाएगा। यह शिविर बिजली वितरण कंपनी के नेहरू नगर जोन की ओर से लगाया जा रहा है।

अमूमन यह देखा जाता है कि कार्यालय परिसर में उपभोक्ता बिजली से जुड़ी छोटी व बड़ी दोनों तरह की समस्याएं लेकर पहंुचते हैं। कार्यालय पहंुचने के बाद उन्हें यह नहीं मालूम रहता है कि समस्या का निवारण कार्यालय के किस कक्ष में होगा। इस दौरान किसी से जानकारी मिल गई तो समाधान हो जाता है, नहीं उन्हें कार्यालय के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इस तरह की परेशानियों को कंपनी ने महसूस किया है। इसके तहत ही शिविर लगातार सभी तरह की समस्याओं को निराकरण करने का निर्णय लिया गया।

पहला शिविर पांच अप्रैल को मंगला स्थित पंचायत भवन में लगाया जाएगा। इसके बाद छह अप्रैल को लोखंडी स्थित पंचायत भवन और आठ अप्रैल को शिवम रेसीडेंसी (ठेठा डबरी) व 12 अप्रैल को ओम नगर (मिनी बस्ती शिवनाथ मार्ग) में शिविर लगाने का निर्णय लिया गया है। चारों जगह शिविर का समय सुबह 11 बजे से शाम पांच बजे निर्धारित किया गया है।

उपभोक्ता बिल, नए कनेक्शन, तार, ट्रांसफार्मर, खंभे, मीटर समेत सभी तरह की समस्याओं को दर्ज करा सकते हैं। कंपनी के कर्मचारियों द्वारा प्रमुखता से उनकी समस्याएं सुनीं जाएगी। इसके अलावा यह प्रयास किया जाएगा कि समस्याएं शिविर के माध्यम से दूर कर दी जाए। जिनका समाधान नहीं होगा उनके आवेदन स्वीकार किए जाएंगे और जितनी जल्दी हो उसका निपटारा किया जाएगा।