ब्रेकिंग
लंबे समय बाद स्टेज पर दिखे शाहरुख खान कुछ सरल वास्तु उपाय जो घर मे लाएंगे बरक्कत डोमेस्टिक का चार्ज लगेगा, बिजली बिलों में 2 रुपए प्रति यूनिट का मिलेगा फायदा एक महीने में हुए चार 'दुराचारी सभा' में पहुंचे सिर्फ 844 हिस्ट्रीशीटर,दरी पर बैठना उन्हें नहीं पसंद बोले- 5 साल से कर रहा था तैयारी, अब बना राजस्थान का टॉपर गुरु अमरदास एवेन्यू के निवासियों ने ब्लॉक किया जीटी रोड, MLA के खिलाफ प्रदर्शन भूप्रेंद्र सिंह हुड्‌डा ने कहा गांधीवादी तरीके से करेंगे विरोध, सरकार रद्द करके अग्निपथ फर्जी दस्तावेज तैयार कर कब्जाई थी जमीनें, पुलिस की गिरेबान पर हाथ डालने के बाद आया था चर्चा में सनी नागपाल भुवनेश्वर कुमार तोड़ेंगे पाकिस्तानी गेंदबाज का रिकॉर्ड डेब्यू मैच में फ्लॉप रहे उमरान मलिक

कपड़ा बाजार में भी कोरोना का प्रभाव, हफ्ते भर में ही 10 फीसद कम हुई ग्राहकी

रायपुर।  बीते पखवाड़े भर से फिर से प्रदेश में बढ़ रहे कोरोना के प्रभाव के चलते कारोबार भी प्रभावित होने लगा है। त्योहारी सीजन में जब बाजारों में रौनक बढ़ जाती है। ऐसे समय में एक बार फिर से कपड़ा बाजार की रंगत उड़ने लगी है। कारोबारियों की माने तो बीते हफ्ते भर में ही पंडरी कपड़ा बाजार की ग्राहकी 10 फीसद कम हो गई है। बाहर से आने वाले कारोबारियों के साथ ही ग्राहकों ने आना बंद कर दिया है।

पंडरी थोक कपड़ा बाजार के पूर्व अध्यक्ष सुशील अग्रवाल ने बताया कि हालांकि बाहरी क्षेत्रों से आने वाले माल सप्लाई में किसी भी प्रकार से कमी नहीं है। आने वाले शादी सीजन का ध्यान रखते हुए पर्याप्त स्टाक मंगाया जा रहा है। लेकिन बीते कुछ दिनों से ग्राहकी कमजोर पड़ने लगी है। बाजार में कोरोना का भय देखा जाने लगा है।

पंडरी कपड़ा बाजार के साथ ही दूसरे कई बाजारों में भी कोरोना का प्रभाव दिखने लगा है और ग्राहकी थोड़ी कमजोर पड़ने लगी है। पिछले साल कोरोना के प्रभाव के चलते ही कपड़ा बाजार में पूरा स्टाक जाम हो गया था। कपड़ा बाजार के साथ ही थोक सब्जी बाजार में भी इन दिनों सन्नाटा सा पसरने लगा है। वहां भी ग्राहकी काफी अच्छी लगने लगी है।

तीन महीनों में बढ़ी कीमतें

यार्न की कीमतों में बढ़ोतरी के चलते बीते तीन महीनों में कपड़ों की कीमतों में भी 20 फीसद तक की तेजी आई है। शूटिंग शर्टिंग के साथ ही रेडीमेड कपड़ों पर भी इसका असका देखा जाने लगा है। कपड़े संस्थानों में हालांकि शादी सीजन व गर्मी के सीजन को देखते हुए कपड़ों की नई रेंज मंगाई जा रही है। कारोबारियों का कहना है कि इन्हें काफी पसंद भी किया जाएगा।