कोरोना की दूसरी लहर के बीच मिले डबल म्यूटेंट वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, महाराष्ट्र और मप्र के कई जिलों में लॉकडाउन

नई दिल्ली। देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को जानकारी दी कि नए स्ट्रेन के संक्रमण को लेकर चिंता और बढ़ गई है। जीनोम सिक्वेंसिंग और महाराष्ट्र के नमूनों के विश्लेषण से वायरस में नया म्यूटेशन पाया गया, जो पहले से मौजूद वैरिएंट्स से मेल नहीं खाता है। महाराष्ट्र कोरोना से भारत का सबसे अधिक प्रभावित राज्य है। हालांकि, मंत्रालय ने कहा कि यह अभी स्पष्ट नहीं है कि नया वैरिएंट ही वहां या अन्य राज्यों में मामलों में बढ़ोतरी का कारण है।

भारत में पहले ही ब्रिटेन में पाए गए कोरोना के नए वैरिएंट के कई मामले सामने आ चुके हैं। साथ ही साथ दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील में भी पाए गए नए वैरिएंट के मामले सामने आ गए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा बुधवार को जारी के आंकड़ों  के अनुसार पिछले 24 घंटे की अवधि में 47,262 नए मामले सामने आए। पिछले साल नवंबर के बाद इतने मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही कुल मामलों की संख्या एक करोड़ 17 लाख को पार कर गई है। भारत कोरोना से दुनिया के सबसे ज्यादा प्रभावित देशों की सूची में तीसरे स्थान पर है। पहले पर अमेरिका और दूसरे पर ब्राजील है।

महाराष्ट्र के दो और जलों में लाकडाउन 

कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य महाराष्ट्र है। महाराष्ट्र के कई शहरों में कोरोना को लेकर फिर से पाबंदी लगाई जा रही है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने भी राज्य के दो जिलों नांदेड़ और बीड में बुधवार रात 12 बजे से 4 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित कर दिया है। इस बीच नासिक में लगे लॉकडाउन को लेकर नए गाइडलाइंस जारी किए गए हैं। 31 मार्च तक हर शनिवार और रविवार अतिआवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें और चीजें बंद रहेंगी। सोमवार से शुक्रवार तक सभी दुकानें सुबह 7 से शाम 7 तक और, अति आवश्यक चीजों से जुड़ी सेवाएं सुबह 7 से 9 बजे तक जारी रहेगी। इस बीच स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कहा गया कि कोरोना वायरस के सक्रिय मामले 10 जिलों (पुणे, नागपुर, मुंबई, ठाणे, नासिक,औरंगाबाद, बेंगलुरु अर्बन, नांदेड, जलगांव, अकोला) में केंद्रित हैं। इस 10 जिलों में से 9 जिले महाराष्ट्र और 1 जिला कर्नाटक से है।केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि फिलहाल भारत में 368457 सक्रिय मामले हैं। महाराष्ट्र में 28,699, पंजाब में 2,254 और गुजरात में 1,790 सक्रिय मामले हैं।

मध्य प्रदेश में चार और जिलों में रविवार का लॉकडाउन

मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में हालात की समीक्षा की गई। तय हुआ कि 20 से ज्यादा केस वाले जिलों में सिनेमाघर, क्लब, स्वीमिंग पूल और रेस्टोरेंट बगैरह बंद हो जाएंगे। रेस्टोरेंट में बैठकर खाने की सुविधा नहीं होगी, लेकिन पार्सल ले जाने की अनुमति होगी। शादी समारोह में 50 और शवयात्रा में 20 से अधिक व्यक्तियों के शामिल होने पर प्रतिबंध रहेगा। उठावना में 50 से अधिक लोग उपस्थिति नहीं हो सकेंगे। चार और शहरों बैतूल, छिंदवाड़ा, खरगोन और रतलाम में भी रविवार को लाकडाउन रखने का फैसला किया है। इंदौर, भोपाल और जबलपुर में यह पहले ही लागू है। इन जिलों में 31 मार्च तक स्कूल-कॉलेज बंद रहेंगे। चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि होली, शबे बारात, ईस्टर आदि त्योहार के सार्वजनिक कार्यक्रम प्रतिबंधित रहेंगे। बड़ी संख्या में लोगों को एकत्र नहीं होने दिया जाएगा। हालांकि, औद्योगिक इकाइयों के श्रमिक, कर्मचारियों, औद्योगिक कच्चे माल, उत्पाद, बीमार व्यक्तियों के परिवहन, एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन आने-जाने के साथ परीक्षा या प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने की छूट रहेगी।

होली के मद्देनजर बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध की घोषणा

बढ़ते मामलों के कारण कई राज्यों ने होली के मद्देनजर बड़ी सभाओं पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा कर दी है। केंद्र सरकार ने होली और अन्य त्योहारों के मद्देनजर राज्यों को अलर्ट रहने को कहा है। बढ़ते मामलों के मद्देनजर गृह मंत्रालय ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके अनुसार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को टेस्ट, ट्रैकिंग और ट्रीट प्रोटोकॉल को सख्ती से लागू करने का निर्देश है। साथ ही टीकाकरण की गति बढ़ाने को भी कहा गया है।

त्योहारों पर सख्ती के मूड में केंद्र सरकार, राज्यों के लिए जारी की नई गाइडलाइंस

त्योहारी सीजन को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अलर्ट रहने को कहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने होली, ईद, शब-ए-बारात और ईस्टर पर भीड़ को रोकने का निर्देश दिया है। महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और गुजरात में कोरोना वायरस के नए मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य अतिरिक्त सचिव ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों को पत्र लिखा है कि होली, शब-ए-बारात, बिहू, ईस्टर और ईद-उल-फितर के मौके पर सार्वजनिक जगहों पर भीड़ को रोकने के लिए स्थानीय स्तर पर सख्त कदम उठा सकते हैं।

 गुजरात, राजस्थान और हरियाणा में नई गाइडलाइंस

कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए विभिन्न सरकारों ने सख्त कदम उठाना शुरू कर दिया है। हरियाणा सरकार ने सार्वजनिक तौर पर होली का त्योहार मनाने पर रोक लगा दी है और कहा है कि अपने घरों पर रहकर ही सादे ढंग से ही होली मनाएं। गुजरात सरकार ने होली को लेकर नए दिशानिर्देश जारी किए हैं। सरकार ने कहा कि होली वाले दिन सार्वजनिक समारोहों और भीड़ वाले कार्यक्रमों की अनुमति नहीं होगी। राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के अनुसार दूसरे राज्यों से आने वाले यात्रियों के लिए 72 घंटे की अवधि की आरटीपीसीआर रिपोर्ट जरूरी की गई है। बिना टेस्ट वाले यात्रियों को 15 दिन क्वारंटीन किया जाएगा।