ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

इंदौर में देर रात दो बदमाशों की चाकुओं से गोदकर हत्या

इंदौर। बाणगंगा थाना क्षेत्र की कालिंदी गोल्ड कालोनी के मेन रोड पर दो युवकों की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। दोनों युवकों पर आपराधिक प्रकरण दर्ज थे। घटनास्थल से 200 मीटर दूरी पर खून भी मिला है। जिससे लग रहा है कि उनका हमला करने वालों से संघर्ष भी हुआ है। एएसपी शशिकांत कनकने के अनुसार घटना बुधवार देर रात की है। सूचना मिली थी कि कालिंदी गोल्ड मेन रोड पर कुछ दूरी पर दो युवकों के शव रक्तरंजित अवस्था में पड़े हुए हैं। उनकी शिनाख्त अर्पित खटे निवासी लवकुश विहार और गौरव मिश्रा निवासी गौरी नगर के रूप में हुई है।

गौरव के स्वजन भोपाल में रहते हैं। उसके पिता सशस्त्र बल में पदस्थ हैं जबकि अर्पित का परिवार महाराष्ट्र में रहता है। घटना स्थल पर काफी खून भी मिला है। गौरव के पेट पर चाकू के निशान थे जबकि अर्पित के पसली, हाथ और गले पर चाकुओं के निशान मिले हैं। मौके पर एक बिना नंबर की एक्टिवा भी मिली है। अर्पित खटे पर विभिन्न् थानों में लूट, हत्या का प्रयास, अड़ीबाजी, चोरी जैसे 15 अपराध दर्ज थे, जबकि गौरव पर चार अपराध दर्ज थे। हत्यारों की तलाश में पुलिस की टीमें रवाना की गई हैं।

बचने के लिए भागे बदमाश

टीआइ राजेंद्र सोनी के अनुसार घटना स्थल को देखकर लग रहा है कि गौरव और अर्पित ने हमला करने वालों के साथ संघर्ष भी किया। घटना स्थल से 200 मीटर दूरी पर खून मिला है। ऐसा लग रहा है कि दोनों को योजना के तहत बुलाया गया और उसके बाद उन पर चाकू से हमला कर दिया गया। इसके बाद दोनों वहां से भागे भी लेकिन हत्यारों की संख्या अधिक होने से वे बच नहीं पाए और करीब 200 मीटर दूर जाकर गिर पड़े। घटना स्थल के पास बहुत अंधेरा था और लोगों की आवाजाही भी कम है। ऐसी जानकारी भी मिली है कि तीन दिन पूर्व दोनों का कुछ लोगों से विवाद हुआ था।