ब्रेकिंग
स्वास्थ्य मंत्री डॉ. चौधरी ने जेपी हॉस्पिटल में स्वास्थ्य मेले की व्यवस्थाओं का जायजा लिया एकदंत संकष्टी चतुर्थी कल अप्रैल के जीएसटी कर भुगतान की तारीख बढ़ी वैश्विक स्तर पर अकेले वायु प्रदूषण से 66.7 लाख लोगों की मौत ऑनलाइन गेमिंग, कैसिनो पर 28 फीसदी जीएसटी लगाने की तैयारी, ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स ने दी प्रस्ताव को मंजूरी एक दिन की बढ़त के बाद फिसला बाजार, सेंसेक्स-निफ्टी लाल निशान में क्लोज, पॉवर ग्रिड सबसे ज्यादा लुढ़का पीएम आवास योजना को लेकर सरकार ने किया बड़ा ऐलान! सभी पर पड़ेगा असर कश्मीर घाटी में अभी और होगी बारिश, जम्मू में चल सकती है लू, अलर्ट जारी सुप्रीम कोर्ट ने एजी पेरारिवलन को रिहा किया फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया में आवेदन की प्रक्रिया जल्द ही शुरू की जा सकती है

कोरोना की दूसरी लहर, छत्‍तीसगढ़ में आंकड़ा तीन हजार पार

रायपुर। Corona Pandemic: प्रदेश में मार्च महीने में पिछले 10 दिनों से कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसे देखते हुए राज्य सरकार ने भी मान लिया है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण की यह दूसरी लहर है, जो ज्यादा घातक है। लोगों को और सावधानी बरतनी होगी। होली से पहले शनिवार को राज्य में कोरोना का आंकड़ा तीन हजार के पार हो गया।

 

नए मामलों में दुर्ग पहले नंबर पर रहा। यहां 1,127 मरीज मिले। इसके बाद रायपुर में 796 नए संक्रमित मिले। प्रदेश में 12 लोगों की मौत हुई। सबसे चिंताजनक बात यह है कि अब छोटे शहरों में भी मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इधर सीएमएचओ डाक्‍टर डीके तुर्रे ने बताया कि दो मार्च को नगर निगम धमतरी में पदस्थ रहे संविदा वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी सतीश त्रिपाठी की अस्पताल में मौत हो गई।

ज्‍यादा घातक है दूसरी लहर

कोरोना की दूसरी लहर को स्वीकार करते हुए प्रशासन का कहना है कि बढ़ते संक्रमितों के साथ ही गंभीर रोगियों के बढ़ने से खतरा दोगुना हो गया है। एम्स में चिकित्सा विशेषज्ञ डा. अतुल जिंदल ने बताया कि कोराना की पहली लहर की अपेक्षा अभी दूसरी लहर में संक्रमण काफी तेजी और आक्रामक रूप से फैल रहा है। 24 घंटे के भीतर गंभीर रोगियों के अस्पताल आने पर उनकी मौत हो रही है। युवा भी इसकी चपेट में आ रहे हैं। लोग समझें, जागरूक हों, वरना स्थिति पहले की अपेक्षा ज्यादा भयावह हो सकती है।

स्थिति भयावह, परिवार के साथ मनाएं होली: मुख्यमंत्री भूपेश ने कहा है कि कोरोना की स्थिति भयावह है। इसके हालात पर हम नजर बनाए हैं। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई है। जो जरूरी कदम उठाने होंगे, उठाए जाएंगे। कोरोना को देखते हुए होली में सावधानी जरूरी है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि हो सके तो परिवार के साथ ही होली मनाएं, टीका लगवाएं। सार्वजनिक रूप से होली मनाने से परहेज करें। मुख्यमंत्री ने अपील की कि सभी लोग होली के दौरान जरूरी सावधानी बरतें।

छत्तीसगढ़ की स्थिति पर केंद्र भी चिंतित़

देश में कोरोना संक्रमण को लेकर केंद्र भी सतर्क है। वहीं छत्तीसगढ़ सहित छह राज्यों में बढ़ते मामलों को लेकर चिंतित है। इससे होली का जश्न भी फीका पड़ने के आसार हैं। शनिवार को करीब साढ़े पांच महीने बाद देश में सामने आए सर्वाधिक नए मामले हैैं। पिछले 10 दिनों में नए दैनिक मामलों की संख्या दोगुना हो गई है। 16 मार्च को 24,492 मामले मिले थे, जबकि शनिवार को 62 हजार से ज्यादा नए मरीज पाए गए। तीन महीने बाद 24 घंटों में 291 मरीजों की मौत भी हुई है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से सुबह आठ बजे के आंकड़ों के मुताबिक एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के 62,258 नए मामले सामने आए

छत्‍तीसगढ़ में कोरोना की स्थिति

नए केस-3,162

सक्रिय-17,836

स्‍वस्थ-3,16,043

कुल संक्रमित-3,37,940

मौत- 4061

कुल जांच- 56,37,095